मंगलवार, 24 जून 2014

मैंने मंगल पर बिताए हैं 17 साल', पूर्व अमेरिकी नौसैनिक का अजीबोगरीब दावा


'मैंने मंगल पर बिताए हैं 17 साल', पूर्व अमेरिकी नौसैनिक का अजीबोगरीब दावा

वाशिंगटन। अमेरिका के एक पूर्व नौसैनिक ने बड़ा ही दिलचस्प दावा किया है उनका कहना है कि पोस्टिंग के तहत 17 साल तक वो मंगल ग्रह पर रह चुका है। अपना नाम कैप्टन काय बताने वाले पूर्व नौसैनिक ने कहा कि मंगल ग्रह पर पोस्टिंग के दौरान उन्होंने पांच इंसानी कॉलोनियों की मंगल ग्रह के निवासियों से रक्षा की। 
 
इतना ही नहीं, काय का ये भी दावा है कि इसके बाद उन्होंने तीन साल एक गुप्त ऑपरेशन के लिए अंतरिक्ष बेड़े में बिताए। काय ने बताया कि वो अंतरिक्ष के लिए बनी एक गुप्त नौसेना का हिस्सा था, जिसे अर्थ डिफेंस फोर्स नाम की मल्टीनेशनल ऑर्गेनाइजेशन द्वारा चलाया जा रहा है। ये संस्था अमेरिका, रूस और चीन के सैन्य कर्मियों की भर्ती करती है। 
 
एक निजी चैनल के जरिए जारी बयान में कैप्टन काय ने कहा कि उसे तीन अलग-अलग तरह के स्पेस फाइटर और तीन लड़ाकू विमान चलाने की ट्रेनिंग दी गई है। काय का कहना है कि इसके लिए ट्रेनिंग उसे अंतरिक्ष के अलग-अलग ग्रहों पर दी गई। 
 
काय का एक दावा ये भी है कि 20 साल की इस ड्यूटी के बाद रिटायरमेंट पर उनका विदाई समारोह चंद्रमा पर किया गया। साथ उन्हें पूर्व रक्षा सचिव डोनाल्ड रम्सफेल्ड की तरह ही वीआईपी लोगों में शामिल किया गया है। sabhar :bhaskar .com

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कोरोना में सफलता की कहानी:15 हजार से शुरू किया था कारोबार, IT कंपनी खड़ी की, अब अमेरिका के 3.5 लाख करोड़ टर्नओवर वाले ग्रुप में शामिल

(गीतेश द्विवेदी) कोविड दौर में आईटी सेक्टर से बड़ी खबर आई है। इंदौर की आईटी कंपनी नार्थआउट को अमेरिका के बड़े ग्रुप एचआईजी की सहयोगी कंपनी ईज ...