शनिवार, 3 अगस्त 2013

समझिए, सेक्स क्षमता घटने के ये 6 इशारे

signs of lower testosterone sex hormone

सेक्स के प्रति अनिच्छा या फिर जल्दी थकान आपकी सेक्स लाइफ के लिए किसी खतरे के अलार्म से कम नहीं है। अमूमन सेक्स लाइफ की इस नाकामी का संबंध पुरुषों में मौजूद टेस्टोस्टेरोन नामक हार्मोन से होता है। 

टेस्टोस्टेरोन पुरुषों में सेक्स की इच्छा पैदा करता है और फर्टिलिटी से इसका संबंध है। शरीर में इसकी कमीं का प्रभाव न सिर्फ सेक्स लाइफ पर पड़ता है बल्कि और भी कई समस्याएं हो सकती हैं। 

जानिए टेस्टोस्टेरोन घटने से यौन क्षमता में होने वाली कमी सेहत से जुड़ी किन समस्याओं के रूप में इशारा करती है।

बहुत अधिक थकान होना
टेस्टोस्टेरोन कम होने का शरीर पर सबसे सामान्य प्रभाव पड़ता है थकान के रूप में। यह हार्मोन जब शरीर में कम होता है तब बिना मेहनत किए भी आपको थकान होती रहेगी, यहां तक कि बहुत थकान से आप अवसाद की स्थिति में पहुंच सकते हैं।

पौरुष में कमी
टेस्टोस्टेरोन घटने के साथ-साथ कई बार पौरुष में कमी आने लगती है। खासतौर पर सेक्स के दौरान इरेक्शन न होने की बड़ी वजह टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होना है। हालांकि दिल के रोग या डायबिटीज के दौरान भी पुरुषों में यह समस्या हो सकती है।

याददाश्त संबंधी समस्याएं
टेस्टोस्टेरोन कम होने का संबंध याददाश्त से भी होता है। अगर असका स्तर कम हो जाए तो चीजें याद रखने में दिक्कत हो सकती है या फिर किसी भी काम में आपका ध्यान नहीं लगेगा। योग, मसाज व एक्सरसाइज से इस पर काबू किया जा सकता है।

मूड में बदलाव
टेस्टोस्टेरोन कम होने की वजह से बार-बार मूड बदलने की समस्या भी हो सकती है। कुछ ही क्षण में गुस्सा और कुछ ही मिनटों में हंसी, अगर ऐसी तब्दीली आप अपने व्यवहार में देख रहे हैं तो इसे अपने यौन क्षमता से भी जोड़कर देखे क्योंकि इसकी वजह टेस्टोस्टेरोन का घटता स्तर हो सकता है।

शरीर के बाल झड़ना
सिर के बाल ठीक रहें और मूंछ, दाढ़ी, हाथ या पैर पर बाल झड़ने लगें तो इसकी वजह टेस्टोस्टेरोन का कम स्तर भी हो सकती है। कुछ मामलों में इसका संबंध गंजेपन से भी हो सकता है लेकिन इसके लिए डॉक्टरी परामर्श के बाद ही आप कुछ तय कर सकते हैं।

मोटापा

लगातार मोटापा बढ़ने की वजह टेस्टोस्टेरोन का कम स्तर भी हो सकता है। टेस्टोस्टेरोन कम होने से मांसपेशिया बनने के बजाय कैलोरी जमा हो जाती है जिससे फैट्स बढ़ जाता है। sabhar :http://www.amarujala.com/

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कोरोना में सफलता की कहानी:15 हजार से शुरू किया था कारोबार, IT कंपनी खड़ी की, अब अमेरिका के 3.5 लाख करोड़ टर्नओवर वाले ग्रुप में शामिल

(गीतेश द्विवेदी) कोविड दौर में आईटी सेक्टर से बड़ी खबर आई है। इंदौर की आईटी कंपनी नार्थआउट को अमेरिका के बड़े ग्रुप एचआईजी की सहयोगी कंपनी ईज ...