शनिवार, 14 अप्रैल 2012

मैं निर्मल बाबा के साथ हूं



मैं निर्मल बाबा के साथ हूं. कम से कम अब तो साथ हूं. दिल खोल के साथ हु निर्मल बाबा अकेले नहीं है संसार में अनेको ढोगी बाबा है जो ढोग का लिवास पहन कर लोगो को मुर्ख बना रहे है  । आखिर निर्मल बाबा का क्यों विरोध हो रहा है , अगर ढंग से बाबाओ की छवि सामने आये तो बड़े बड़े मठाधीश नंगे हो जायेगे ।  ये बाबा लोग  टीवी चेंनेल पर प्रवचन देते सुबह शाम देखे जाते है और बाबाओ के पैसे  से ही टीवी चेंनेल चल रहे है ।

फिर निर्मल बाबा के खिलाफ क्यों अभियान छेड़ा जा रहा है । अगर ढंग से बाबाओ  की कुंडली खंगाली जाये तो उनके  अतीत का काल सच बहुत खतरनाक होगा । आज निर्मल बाबा के विज्ञापन ३५ चेनल पर नजर आते है । हर तरफ निर्मल कृपा बरस रही है । लोग जमकर निर्मल बाबा की विरोध में लिख  रहे है मै पूछता हु  आखिर क्यों ?क्या आप  लोगो में हिम्मत  है जो  अन्य  बाबा   टीवी चेनल पर आते है और  जो बाबा टीवी चेनल  पर  नहीं दिखाई   देते है  कल तक साइकिल से रपटने वाले बाबा रामदेव जी के  पास  अपार धन कहा से आ गया ।  क्या वह पैसा नहीं लेते है । सच यह है १०० में १ बाबा पाक साफ़ है ।बाकि सब ढोगी है ।  मै सब ढोगी पाखंडी बाबाओ के खिलाफ हु जो धर्म के नाम पर झूट बेच कर अपनी तिजोरी भर रहे  है । ,

एडिटर
सुशील गंगवार 
साक्षात्कार डाट .कॉम 
मीडिया दलाल डाट .कॉम 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कोरोना में सफलता की कहानी:15 हजार से शुरू किया था कारोबार, IT कंपनी खड़ी की, अब अमेरिका के 3.5 लाख करोड़ टर्नओवर वाले ग्रुप में शामिल

(गीतेश द्विवेदी) कोविड दौर में आईटी सेक्टर से बड़ी खबर आई है। इंदौर की आईटी कंपनी नार्थआउट को अमेरिका के बड़े ग्रुप एचआईजी की सहयोगी कंपनी ईज ...