मंगलवार, 6 दिसंबर 2011

अन्ना के खिलाफ जंतर मंतर पर ही प्रदर्शन करेंगे राजू परुलेकर





नई दिल्ली. 11 दिसम्बर को जंतर मंतर पर एक दिन के लिए अनशन पर बैठ रहे अन्ना हजारे को उनके पूर्व ब्लॉगर राजू परुलेकर और अन्य विरोधियों का सामना करना पड़ सकता है। अन्ना के पूर्व ब्लॉगर राजू परुलेकर और अन्य विरोधी अन्ना द्वारा अपनाए जा रहे तरीकों के खिलाफ वहीं पर तीन दिन का विरोध प्रदर्शन करेंगे।

गौरतलब है कि अन्ना मजबूत लोकपाल बिल के लिए 11 दिसम्बर को एक दिन के लिए अनशन पर बैठने वाले हैं। अन्ना का यह अनशन लोकपाल बिल को कथित तौर को कमजोर करने के विरोध में होगा।

मंगलवार को अन्ना के पूर्व ब्लॉगर राजू परुलेकर ने बताया कि देश के विभिन्न भागों के युवक 10 दिसम्बर से जंतर मंतर पर अन्ना और उनके समर्थकों के खिलाफ तीन दिनों का विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे।

परुलेकर ने कहा "कार्यकर्ता हजारे का सामना करेंगे। वे टीम अन्ना में गुंडा प्रकृति के प्रचलन के बारे में सवाल करेंगे। वे हजारे से जानना चाहेंगे कि किरण बेदी के खिलाफ मामला दर्ज हो जाने के बाद भी वह टीम में कैसे बनी हुईं हैं। वे उनसे पूछेंगे कि क्या वे यही पैमाना मंत्रियों के बारे में भी अपनाएंगे। वे अरविन्द केजरीवाल के वित्तीय लेनदेनों के बारे में भी सवाल करेंगे।"

हालांकि उन्होंने कहा कि वह खुद इस तीन दिवसीय विरोध प्रदर्शन में हिस्सा नहीं लेंगे,लेकिन 23 दिसम्बर से टीम अन्ना के सदस्यों अरविन्द केजरीवाल और प्रशांत भूषण के खिलाफ शुरू होने वाले विरोध प्रदर्शन,जिनमें उनके आवासों का घेराव किया जाएगा,उसमें वह शामिल होंगे।

             sabhar :    http://www.bhaskar.com

 
 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कोरोना में सफलता की कहानी:15 हजार से शुरू किया था कारोबार, IT कंपनी खड़ी की, अब अमेरिका के 3.5 लाख करोड़ टर्नओवर वाले ग्रुप में शामिल

(गीतेश द्विवेदी) कोविड दौर में आईटी सेक्टर से बड़ी खबर आई है। इंदौर की आईटी कंपनी नार्थआउट को अमेरिका के बड़े ग्रुप एचआईजी की सहयोगी कंपनी ईज ...