मंगलवार, 6 दिसंबर 2011

अधेड़ों पर क्यों आता है युवतियों का दिल, जानना है तो पढ़ें खबर!






जमशेदपुर। इसे पश्चिमी सभ्यता का प्रभाव कहें या शहर के बदलते परिवेश का परिणाम। शहर में इन दिनों अधेड़ द्वारा अपनी से आधी उम्र की लड़कियों से प्यार और फिर शादी की प्रवृत्ति बढ़ी है। इस मामले में शहर के बुद्धिजीवियों की राय है कि यह पाश्चात्य प्रथा का परिणाम है। आजकल की लड़कियों के मन में यह बात जन्म ले रही है बिना मेहनत के कोई चीज कैसे मिल सकती है।


स्टेबिलिटी की वजह से वे इस आकर्षण को रिश्ते में तब्दील कर रही हैं। दूसरी ओर, मनोचिकित्सक निधि श्रीवास्तव का मानना है कि इसका कारण इलेक्ट्रा कॉम्प्लेक्स नामक बीमारी है, जो लड़कियों में 20 से 26 वर्ष के बीच होती है। इस दौरान वे अधिक उम्र के लोगों में अपने पिता की छवि तलाश करती हैं।


क्या है इलेक्ट्रा कॉम्प्लेक्स


मनोचिकित्सक के अनुसार, इलेक्ट्रा कॉम्प्लेक्स युवतियों में पलने वाली एक अजीब किस्म की बीमारी है। इस बीमारी के कारण लड़कियां अपने पिता को सबसे करीब समझती हैं। वे समझतीं हैं कि उनके पिता से ज्यादा करीब दूसरा कोई नहीं हो सकता। साथ ही वे खुद को सुरक्षित महसूस करतीं हैं। आजकल की लड़कियों में अपने से अधिक उम्र के लोगों से प्यार होना, उनसे शादी करना आदि इसी के कारण हैं।


क्या हैं कारण


1. पाश्चात्य सोच
2. बिना मेहनत किए स्थायित्व मिलना
3. मानसिक और आर्थिक रूप से सुरक्षित जिंदगी की तलाश
4. लिव इन रिलेशन की प्रथा का जन्म लेना
5. अपने पिता की छवि को अधिक उम्र के लोग में तलाश करना


कैसे बचा जा सकता है


1. लड़कियों को इस फास्ट लाइफ से बाहर निकलना होगा
2. संघर्ष करने की आदत डालनी होगी
3. स्वस्थ जीवनसाथी की तलाश करनी होगी
4. बराबर और थोड़े बड़े उम्र वालों के साथ शादी होने से दोनों में आपसी समझदारी ज्यादा होती है
5. अपने जीवनसाथी को अपना दोस्त समझना होगा sabhar :
http://www.bhaskar.com
 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कोरोना में सफलता की कहानी:15 हजार से शुरू किया था कारोबार, IT कंपनी खड़ी की, अब अमेरिका के 3.5 लाख करोड़ टर्नओवर वाले ग्रुप में शामिल

(गीतेश द्विवेदी) कोविड दौर में आईटी सेक्टर से बड़ी खबर आई है। इंदौर की आईटी कंपनी नार्थआउट को अमेरिका के बड़े ग्रुप एचआईजी की सहयोगी कंपनी ईज ...