४५ प्रतिशत होगी शहरी जनसँख्या भारत की

 सरकार  की एक  रिपोर्ट  तथा  आर्थिक  विश्लेषण की संस्था एन  सी ऐ इ  आर  के एक अध्ययन के मुताबिक ४५ प्रतिशत आबादी  शहरों  में निवास   करेगी ,  अगले  ४० वर्षो में  शहरी जनसँख्या ४० करोड़  बाद जायेगी|  इस तरह  २०५०  तक गावं  का भारत  शहरी भारत हो जाएगा  और  प्रति ब्यक्ति  आय में भी भारी इजाफा होगा | यह  रिपोर्ट  २०  प्रमुख  शहरों के परिवारों की आय  और  व्यय  पद्धति पर निर्भर है |  ये प्रमुख २० शहर  बित्तीय  रूप से महत्व पूर्ण हो जायेंगे | अभी  केवल १० प्रतिसत आबादी  ही शहरों में रहती है |

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पोर्न स्टार्स की दुनिया

मर्दों की सभी प्रकार की कमजोरी दूर कर सकता है एक चमत्‍कारी पौधा

जादू - टोना क्या सच में होता है ?