शनिवार, 2 अगस्त 2014

अंतरिक्ष में ऑक्‍सिजन बनाएगी ये पत्तियां




artificial-leaf

अंतरिक्ष यात्रा के दौरान अंतरिक्ष यात्रियों को ऑक्सिजन की आपूर्ति जल्द ही मानव निर्मित पत्तियों से होगी। दुनिया की पहली कृत्रिम जैविक पत्ती का विकास हो चुका है, जो पानी और कार्बन डाईऑक्साइड का अवशोषण कर ऑक्सिजन पैदा करने में सक्षम है।

इस पत्ती का विकास करने वाले ब्रिटेन के रॉयल कॉलेज ऑफ आर्ट के जूलियन मेलकियोरी ने कहा कि इस खोज से लंबी दूरी की अंतरिक्ष यात्रा में सहूलियत होगी। साथ ही अंतरिक्ष में इंसान के बसने में भी यह मदद कर सकता है, क्योंकि शून्य गुरुत्वाकर्षण में पौधे नहीं उगाए जा सकते। खबरों के अनुसार, लंबी दूरी की अंतरिक्ष यात्रा के दौरान जिंदा रहने के लिए विभिन्न विधियों से ऑक्सिजन पैदा करने के लिए नासा लगातार शोध कर रहा है।

मेलकियोरी की रेशम पत्ती परियोजना का विकास रॉयल कॉलेज ऑफ ऑर्ट्स इनोवेशन डिजाइन इंजिनियरिंग कोर्स और टफ्ट्स यूनिवर्सिटी ऑफ सिल्क लैब से हुआ है। परियोजना के तहत क्लोरोप्लास्ट को रेशम के प्रोटीन में रखा जाता है। पदार्थ को सीधे रेशम के तंतुओं से अलग किया गया है, जिसमें अणुओं के स्थिरीकरण का गजब का गुण है। sabhar :http://navbharattimes.indiatimes.com/

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

शादीशुदा पुरुष किशमिश के साथ करें इस 1 चीज का सेवन, होते हैं ये जबर्दस्त 6 फायदे

किशमिश के फायदे के बारे में आपने पहले भी जरूर पढ़ा होगा लेकिन यहां पर वैज्ञानिक रिसर्च पर आधारित कुछ ऐसे बेहतरीन फैक्ट बताए जा रहे हैं जो श...