शुक्रवार, 4 अप्रैल 2014

पेड़ देंगे रोशनी और दीवारों पर होंगे बगीचे



लंदन। शोधकर्ताओं ने भविष्य के शहरों की परिकल्पना कुछ इस तरह की है। ये शहर रात के अंधेरे में खुद ब खुद जगमगाने लगेंगे। पेड़ स्ट्रीट लाइट्स का काम करेंगे और घरों की दीवारों पर बगीचे तैयार किए जा सकेंगे। लंदन के गार्डन ब्रिज प्रोजेक्ट पर काम कर रही एक कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है। इंजीनियरिंग और डिजाइन परामर्श कंपनी अरुप के विशेषाों के मुताबिक, भविष्य के शहरों में सर्दी के मौसम में फुटपाथ गर्म हो जाएंगे। सड़कों पर जाम लगने की सूरत में ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम (जीपीएस) खुद ब खुद लोगों को नया रास्ता सुझाने लगेगा। कंपनी ने अपनी रिपोर्ट सिटीज अलाइव में भविष्य के शहरों का डिजाइन तैयार किया है।
लंदन के गार्डन ब्रिज प्रोजेक्ट के तहत यह कंपनी टेम्स नदी के आर-पार एक फुटपाथ बनाएगी, जिसपर घास और पेड़ उगाए जाएंगे। रिपोर्ट के मुताबिक, इन शहरों में नागरिकों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए हरियाली को ज्यादा महत्व दिया जाएगा। मौजूदा बुनियादी ढांचों का बड़ी सूझबूझ से इस्तेमाल किया जाएगा। अखबार द टाइम्स के मुताबिक, रिपोर्ट में अनुवांशिक रूप से परिवर्तित पेड़ों के इस्तेमाल की बात कही गई है जो रात में स्ट्रीट लाइट की तरह काम कर सकेंगे। पेड़ दिन में सूर्य से ग्रहण की गई ऊर्जा को रात में छोड़ेंगे। स्टारपाथ नाम के जल प्रतिरोधी स्प्रे से सड़कों को रंग दिया जाएगा जो रात में जगमगाएंगी। ब्रिटेन की कंपनी प्रो टेक द्वारा निर्मित यह दिन में पराबैंगनी किरणों को संग्रहित करती हैं और रात में उसे परावर्तित करती हैं। इस सुविधा से सड़कों के कारण स्ट्रीट लाइट लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। भविष्य में इससे ना सिर्फ ऊर्जा की व्यापक बचत होगी बल्कि ग्लोबल वार्मिग को भी सीमित किया जा सकेगा। sabhar :http://www.jagran.com/

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कोरोनावायरस / महामारी से लड़ने में रोबोट्स की मदद लेगा भारत, यह संक्रमितों तक खाना-दवा पहुंचाएंगे, टेम्परेचर और सैंपल लेने का काम भी करेंगे

दैनिक भास्कर Apr 06, 2020, 02:05 PM IST नई दिल्ली..  कोरोना से लड़ने के लिए चीन समेत दुनियाभर के कई देश रोबोट्स की मदद ले रहे हैं। यह ...