Loading...

गुरुवार, 6 फ़रवरी 2014

न टूटने वाला शीशा बनेगा

0

अब बनेगा न टूटने वाला शीशा

टोरंटो| क्या आप अपने घर में शीशे से बने सजावटी सामान रखने से डरते हैं क्योंकि आपके शैतान बच्चे इन्हें ज्यादा दिन नहीं टिकने देते? तो अब ऐसा ज्यादा दिनों तक नहीं होगा। भविष्य में नेक्स्ट जेन ग्लास (अगली पीढ़ी का शीशा) बनने जा रहा है जो मुड़ जाएगा लेकिन गिरने पर टूटेगा नहीं।

मैक्गिल यूनिवर्सिटी, कनाडा के इंजीनियरों ने एक तकनीक विकसित की है जो ऐसा शीश्रा बनाती है जो आसानी से मुड़ सकता है और गिरने पर थोड़ा ही खराब होता है। शीशे की मजबूती बढ़ाने की प्रेरणा सीप जैसी प्राकृतिक ढांचों से मिली।

मैक्गिल के मैकेनिकल इंजीनिरिंग विभाग के प्रोफेसर फ्रेंकोइस बाथ्रेलत ने बताया, "घोंघे के गोले लगभग 95 प्रतिशत चाक से बने होते हैं जो इसके शुद्ध रूप में बहुत नाजुक होते हैं।" लेकिन सीप का अंदरूनी भाग सूक्ष्म पट्टियों से बना होता है जो लेगो इमारत ब्लॉक के छोटे रूप की तरह होता है और बहुत मजबूत माना जाता है।

शोधकर्ताओं ने शीशे की स्लाइडों में 3-डी सूक्ष्म दरारों (माइक्रो-कै्रक्स) का तंत्र उत्कीर्ण करने के लिए लेजर का प्रयोग किया। इसके परिणाम चौंकाने वाले थे। शोधकर्ता, गैर उत्कीर्ण स्लाइडों के अपेक्षा, शीशे की स्लाइडों की मजबूती को 200 गुना ज्यादा बढ़ाने में सक्षम थे। सूक्ष्म-दरारों के तंत्र को उत्कीर्ण करने से वे इसे फैलाने और बड़ा करने में दरारों को रोकने में सक्षम थे।

बाथ्रेलत के अनुसार, इससे किसी भी आकार के शाशे की शीट को बढ़ाना आसान होगा। उन्होंने बताया, "हमें पता है कि अब सूक्ष्म-दरारों के पैटर्न का प्रयोग करके हम शीशे या अन्य सामग्रियों को मजबूत कर सकते हैं।"

नेचर कम्युनिकेशन में प्रकशित अध्ययन में कहा गया कि भविष्य में शोधकर्ताओं की मिट्टी के बर्तनों और पॉलिमर्स पर काम करने की योजना है। sabhar :
http://pardaphash.com/

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting