रविवार, 5 जनवरी 2014

मरने से पहले ही लोगों को बता दिया था कि अब मौत आने वाली है

कहते हैं मौत बताकर नहीं आती है जब मौत आनी होती है दबे पांव आती है और जिसे ले जाना होता है उसे अपने साथ लेकर चली जाती है।

लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हुए हैं जिन्हें पहले ही पता चल गया था कि अब उनके जाने का समय हो गया है। इन्होंने मरने से पहले ही लोगों को बता दिया था कि अब मौत आने वाली है। जब मरे तो लोग हैरान रह गए।
इस पूर्व प्रधानमंत्री को पता था मौत आने वाली है

इस पूर्व प्रधानमंत्री को पता था मौत आने वाली है


पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने अपना अंतिम भाषण उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर में दिया था। इंदिरा गांधी ने कहा था कि मुझ पर कई बार हमले हो चुके हैं। मुझे मारने की हर संभव कोशिश की जा रही है। लेकिन मुझे इसकी परवाह नहीं है कि मैं जीवित रहूं या मर जाऊं।

लेकिन अपनी अंतिम सांस तक देश की सेवा करती रहूंगी। मेरे शरीर की एक एक बूंद देश को मजबूत और शक्तिशाली बनाएगा। इस भाषण के ठीक के दिन बाद यानी 31 अक्तूबर को इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई थी।
जब महात्मा गांधी ने कही यह बात

जब महात्मा गांधी ने कही यह बात

20 जनवरी 1948 के बाद महात्मा गांधी अपनी पौत्री मनु से कई बार 'हत्यारे की गोलियां या 'गोलियों की बौछार के बारे में बातें की थीं, जो बुराई की आशंका में नहीं वरना अपने सार्थक जीवन के अन्त के रूप में थी, जिसका आभास उन्हें हो चुका था।

अपनी मृत्यु से एक दिन पहले 29 जनवरी को उन्होंने मनु से कहा था, यदि कोई मुझे गोली मारे और मैं उस गोली को अपने खुले सीने पर बिना पीड़ा से कराहे ले लूं और मेरी जुबान पर राम का नाम हो, तभी तुम्हें कहना चाहिए कि मैं एक सच्चा महात्मा था।

30 जनवरी 1948 को वह घड़ी भी आ पहुंची, जब गांधीजी का पूर्वाभास सच होने वाला था। अपनी पौत्रियों मनु और आभा का सहारा लेकर वह प्रतिदिन होने वाली प्रार्थना सभा में पहुंचे।

अभी उन्होंने दोनों हाथ जोड़कर लोगों को अभिवादन स्वीकार ही किया था कि एक नवयुवक ने मनु को झटका देकर और गांधीजी के आगे घुटनों के बल अभिवादन के अन्दाज में झुककर तीन गोलियां दाग दीं।

अब्राहम लिंकन ने की थी अपने मौत की भविष्यवाणी

अब्राहम लिंकन ने की थी अपने मौत की भविष्यवाणी

अमेरिका के राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन को मारने की साजिश चल रही थी। इसी दौरान एक दिन लिंकन ने सपना देखा कि उनकी हत्या कर दी गई है।

लिंकन ने यह बात अपनी पत्नी को बताई। इस घटना के महज कुछ घंटे के बाद लिंकन की हत्या कर दी गई। और इनका पूर्वाभास सच साबित हुआ।
उसने कहा कल सूर्योदय से पहले वह मर चुका होगा

उसने कहा कल सूर्योदय से पहले वह मर चुका होगा

महान ज्योतिषी नस्त्रेदमस ने अपनी मृत्यु से पूर्व अपने मौत की घोषणा कर दी थी। 1 जुलाई1566 को जब एक पुरोहित उनसे मिलने आया तो नस्त्रेदमस ने उनसे अपने बारे में कहा कि 'वह कल सूर्योदय होने तक मर चुके होंगे।

कुछ ऐसी महान हस्तियां हैं जिन्हें मरने से पहले ही पता चल गया था कि मौत आने वाली है।

sabhar :http://www.amarujala.com

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

एक तस्वीर ने बदली जिंदगी / 4 साल पहले सड़क पर भीख मांगने वाली रीता आज हैं सेलिब्रिटी, इंस्टाग्राम पर हैं एक लाख से अधिक फॉलोवर

2016 में लुकबान के एक फेस्टिवल में शामिल होने पहुंचे फोटोग्राफर टोफर क्वींटो रीता की खूबसूरती से प्रभावित हुए टोफर ने तस्वीर खींचकर सोशल म...