Loading...

शनिवार, 16 नवंबर 2013

बच्चे की बोली लगा दी क्योंकि सोने नहीं देता था

0

Image




पिछले कुछ सालों में इंटरनेट शॉपिंग का क्रेज तेजी से बढ़ा है। अब चुटकियों में किसी भी चीज को ऑनलाइन बिड लगाकर बेचा जा सकता है। लेकिन क्या हो अगर कोई अपने बच्चे को बेचने की बोली लगा दे। जा हां, ब्राजील में कुछ ऐसे ही हुआ। यहां एक अज्ञात अभिभावक द्वारा शॉपिंग वेबसाइट पर अपने बच्चे की बोली लगाने का मामला सामने आया है। बच्चे की बोली 267 पाउंड (तकरीबन 27000 रुपए) लगाई गई थी।

क्लासीफाइड वेबसाइट ओएलएक्स (olx) पर पोस्ट किए गए इस विज्ञापन के खिलाफ ब्राजीलियन पुलिस ने ने जांच शुरू कर दी है। इस विज्ञापन में कुछ महीने के एक बच्चे की तस्वीर लगाई गई है। इसमें लिखा है, 'ये बहुत रोता है और मुझे सोने नहीं देता। जिंदा रहने के लिए मुझे कुछ करना होगा।'

विज्ञापन पोस्ट करने वाले व्यक्ति की पहचान सार्वजनिक नहीं हुई है। अभी तक मालूम नहीं चल सका कि वह पुरुष है या महिला। विज्ञापन देने वाले शख्स ने अपना संपर्क नाम और गोएज के अपारेसिडा डि गोइएनिया शहर का फोन नंबर दिया है।

विज्ञापन 12 घंटे तक वेबसाइट पर एक्टिव रहा। आपत्तिजनक कंटेंट के कारण कंपनी ने अपनी शर्तों के तहत विज्ञापन को साइट से हटा दिया। पुलिस विभाग के चाइल्ड प्रोटेक्शन ऑफिसर मार्सेला ओर्कई के मुताबिक वे विज्ञापन पोस्ट करने वाले व्यक्ति की तलाश कर रहे हैं। विज्ञापन वेबसाइट के बेबीज एंड चिल्ड्रंस सेक्शन में पोस्ट किया गया था।ओर्कई ने बताया, "हम आरोपी की तलाश में जुटे हैं। हमारा विश्वास है कि आरोपी शहर के आसपास ही रहता है, लेकिन जो एड्रेस वेबसाइट पर दिया गया था वो गलत था। पोस्ट में दिया गया फोन नंबर भी गलत है। sabhar : bhaskar.com

Read more

शुक्रवार, 15 नवंबर 2013

ब्रेन डेड महिला 3 महीने बाद दिया बच्चे को जन्म

0

ब्रेन डेड मां ने 3 महीने बाद दिया बच्चे को जन्म


बुडापेस्ट. हंगरी के डेबरेकन मेडिकल यूनिवर्सिटी एंड हॉस्पिटल में एक ब्रेन डेड महिला की सफल डिलीवरी कर डॉक्टरों ने नया इतिहास रच दिया है। यह महिला (31) अप्रैल में ब्रेन स्ट्रोक होने के बाद कोमा में चली गई। उस वक्त उसके गर्भ में 15 हफ्ते का भ्रूण था। जुलाई में महिला की प्रीमैच्योर डिलीवरी (सीजेरियन) की गई। बच्चा स्वस्थ है। उसका वजन 1.4 किलो है। परिवार ने अस्पताल प्रबंधन को उनके बारे में जानकारी देने से मना किया है।
 
डिलीवरी के बाद लाइफ सपोर्ट को बंद कर दिया गया। महिला का लीवर, हार्ट, पैनक्रियास और किडनी चार लोगों को डोनेट कर दिए गए। ऐसा दुर्लभ मामला 2005 में अमेरिका में भी सामने आया था।

ब्रेन डेड महिला ने दिया बच्‍चे को जन्‍म

बच्चे का जन्म समय से थोड़ा पहले हुआ, लेकिन वो सेहतमंद है. डॉक्‍टरों का कहना है कि किसी ब्रेन डेड महिला की डिलीवरी का दुनिया में यह तीसरा मामला है. महिला के घरवाले चाहते थे कि उनकी निजता का खयाल रखा जाए इसलिए बच्‍चे की पहचान गुप्‍त रखी गई है.
वहीं, डॉक्टरों ने बच्चे के जन्म के बाद परिवारवालों की रजामंदी ली और महिला का हार्ट, लिवर और किडनी चार जरूरतमंदों को प्रत्यारोपित कर दिए. इस तरह डॉक्टरों ने न केवल गर्भ में पल रहे बच्चे को नया जीवन दिया, बल्कि चार और लोगों को भी नई जिंदगी दी.
डॉक्‍टरों ने बताया, ‘वह पल अद्भुत था जब बच्‍चे का जन्‍म हुआ. जन्‍म के तुरंत बाद बच्‍चा रोया, वह लात मार रहा था. ट्रीटमेंट में शामिल सभी लोगों के लिए यह कभी ना भूलने वाला पल था.’<>आपको बता दें कि आमतौर पर ब्रेन डेड घोषित किए जाने के बाद मरीज को एक या दो दिन तक ही लाइफ सपोर्ट पर रखा जाता है. डॉक्‍टरों ने बताया, ‘हमारा केस बिलकुल अलग था. हमें बच्‍चे को भी सुरक्षित रखना और महिला के पांच अंग भी किसी और को प्रत्‍यारोपित करने थे.’
प्रेग्‍नेंसी के दौरान बच्‍चे के दादा-दादी और पिता अस्‍पताल आकर मां के पेट को सहलाकर बच्‍चे से बात करते थे. यही नहीं म्‍यूजिक थेरेपिस्‍ट भी बुलाए गए. डॉक्‍टरों के लिए कई तरह के इंफेक्‍शन भी बड़ी चुनौती थे. और तो और बेडसोर यानी कि लेटे-लेटे पीठ और कमर पर होने वाले घावों से बचाने के लिए डॉक्‍टर बार-बार महिला को पलटते रहते थे.
गौरतलब है कि महिला ने बच्‍चे को जुलाई में जन्‍म दिया था. बच्‍चे को पिछले महीने ही अस्‍पताल से छुट्टी मिली है, लेकिन डॉक्‍टर इस सफल ऑपरेशन की घोषणा तब तक नहीं करना चाहते थे जब तक कि बच्‍चा पूरी तरह से स्‍वस्‍थ ना हो जाए. बच्‍चा अब अपने घर में है और ठीक है. डॉक्‍टरों का कहना है कि हालांकि उसमें बीमारी के भी कोई लक्षण नहीं है, लेकिन अभी लगातार उसे निगरानी पर रखा जाएगा. sabhar : bhaskar.com : http://dainiksandhyaprakash.com

Read more

गुरुवार, 14 नवंबर 2013

सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप

0

ऐक्ट्रेस सोफिया हयात ने ट्वीट किया कि वह 10 साल की उम्र में यौन शोषण का शिकार हुईं और....सोफिया बताती हैं कि जब वो बच्ची थीं तो उनके अंकल ने उनका रेप किया था। लेकिन उस हादसे को भुलाते हुए इस 38 वर्षीया एक्ट्रेस ने बहुत स्ट्रगल किया और दिखा दिया कि चीजें इतनी आसानी से खत्म नहीं हो जाती हैं।
 पॉपुलर टीवी रियलटी शो 'बिग बॉस 7' की कंटेस्टेंट सोफिया हयात वाकई उन लोगों के लिए एक प्रेरणा साबित हो सकती हैं जो चाइल्ड अब्यूज के शिकार हुए हैं। मॉडल से एक्ट्रेस बनीं सोफिया का अतीत एक बहुत बड़े हादसे से जुड़ा हुआ है।

चाइल्ड अब्यूज की शिकार हैं सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप

वैसे तो उनकी कई घर वालों के साथ बहस और झगड़ा हो चुका है, लेकिन फिर भी कुछ दूसरे घर वाले उन्हें पसंद कर रहे हैं।
चाइल्ड अब्यूज की शिकार हैं सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप

बिग बॉस` का हिस्सा बन खुश हैं सोफिया हयात

सोफिया ने `बिग बॉस` में जाने से पहले बताया, "मैं यहां इस शो का हिस्सा बनकर खुश हूं। इंगलैंड में यह ज्यादा कठिन है। मैं हर तरह का अनुभव लेना चाहती हूं। `बिग बॉस` के घर में रहना एक अलग अनुभव है।"

वह इस शो में जीत के उद्देश्य से गई हैं, लेकिन वह इसका आनंद भी लेना चाहती हैं। उन्होंने कहा, "मैं शो जीतना चाहती हूं, कौन यह नहीं चाहता। लेकिन मैं अनुभव का आनंद लेना भी महत्वपूर्ण मानती हूं। यह मेरे जीवन का बिल्कुल अलग अनुभव है।"

सोफिया इससे पहले `सुपरडूड` रिएलिटी शो की मेजबानी कर चुकी हैं। वह पहले वीजे एंडी के साथ `बिग बॉस` के घर के नए हिस्से में गई थीं, लेकिन अब वह इसके मुख्य घर में प्रवेश कर चुकी हैं। 

इस शो के बचे हुए अन्य प्रतिभागी हैं-अरमान कोहली, तनिषा मुखर्जी, प्रत्युषा बनर्जी, एली अवराम, अपूर्व अग्निहोत्री, काम्या पंजाबी, संग्राम सिंह और गौहर खान। एजाज खान और कैंडी बरार हाल ही में इसका हिस्सा बने हैं। (एजेंसी)

चाइल्ड अब्यूज की शिकार हैं सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप


चाइल्ड अब्यूज की शिकार हैं सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप

चाइल्ड अब्यूज की शिकार हैं सोफिया हयात, बचपन में अंकल ने किया था रेप

सोफिया ने किया कुछ ऐसा, घर के सारे मर्द करने लगे उनके साथ फ्लर्ट


बिग बॉस: सोफिया ने किया कुछ ऐसा, घर के सारे मर्द करने लगे उनके साथ फ्लर्ट
अब अगर बिग बॉस 7 के 56वें दिन की बात करें तो दिन की शुरुआत हुई अरमान के इस प्रॉमिस से, कि अब से वो घर के किसी भी सदस्य के साथ लड़ाई-झगड़ा नहीं करेंगे। अरमान बताते हैं कि अब वो खुद को शो में बनाए रखने के लिए कुछ दूसरी और नई चीजें ट्राइ करना चाहते हैं और खुद को शांत रखना चाहते हैं।
 
इसके अलावा शो के 56वें दिन गौहर खान एक कोने में बैठ कर सुबकते हुए देखी गईं। यहां तक कि वो किसी भी कंटेस्टेंट से बात तक नहीं कर रही थीं। इसके अलावा बिग बॉस द्वारा दिए गए सोफिया को डेट करने का टास्क भी काफी रोचक था जिसे अरमान और एजाज भी जीत नहीं पाए थे। 


Read more

बुधवार, 13 नवंबर 2013

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

0

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

निया कितनी विचित्र है, इस बात का अंदाजा इस बात से चल जाएगा कि चीन में बेबी सूप पीने और खाने का काफी प्रचलन है। ऐसा चीनी क्यों करते हैं, उसका पीछे उनका दृष्टिकोण अलग है। कुछ ही समय पहले सिओल टाइम्स की इस खबर ने पूरी दुनिया को झकझोर दिया था। सोशल नेटवर्किग साइट पर इस खबर को लेकर काफी आलोचनाएं और कमेंट किए गए। 
 
अखबार और वेबसाइट पर छपी तस्वीरों ने आग में घी डालने का काम ही किया। इसमें मानव भ्रूण के सूप लोगों को बड़े चाव से पीते हुए दिखाया गया। चीन के दक्षिण गुआंगडोंग प्रांत के एक कस्बे में परंपरानुसार हर्बल बेबी सूप पीने का चलन बरसों से जारी है। माना जाता है कि यह सूप शरीर में स्टेमिना और सेक्स ताकत को कई गुना बढ़ा देता है।
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

एक चीनी दंपती ने अखबार को बताया कि उनकी पहले से ही दो बेटियां थीं। जब उन्हें पता चला कि उनका अगला बच्च लड़की ही है, उसे तुरंत गिराने का फैसला कर लिया। उस दौरान महिला को पांच महीने का गर्भ था।
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

जन्म के करीब और नेचुरल मृत नवजात बच्चों की कीमत दो हजार युआन (करीब बीस हजार रुपए) है। वहीं, जो गर्भ में गिराए जाते हैं, उनके कुछ सौ युआन में कीमत लगाई जाती है।
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

ऐसे भी मां-बाप होते हैं, जो अपने मरे हुए बच्चों का सौदा नहीं करना चाहते, वे बच्चे की नाल बेच देते हैं, जो उसकी नाभि से जुड़ी होती है। एक स्थानीय पत्रकार ने बताया कि स्वास्थ्य की तरफ ध्यान देने के कारण और चीनी सरकार की एक बच्चे की पॉलिसी के कारण इस तरह मामले सामने आ रहे हैं, जो अब काफी लोकप्रिय हो रहे हैं। 
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

इस जघन्य अपराध के बीच सबसे बड़ा तथ्य यह है कि ज्यादातर चीनी लोग मेल बेबी खरीदना पसंद करते हैं, जबकि गरीबी लोग अपने फीमेल बेबी को बेचने पर मजबूर हैं। मरे हुए शिशु ताइवान में 4300 रुपए में खरीदे जा सकते हैं। 
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

हांगकांग में भी अब इस मार्केट काफी जोर पकड़ लिया है। वीकली नेक्स्ट मैगजीन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मृत शिशु और भ्रूण चीन में स्वास्थ्य और सुंदरता के नए सप्लीमेंट हैं। न सिर्फ बच्चे की नाल को ब्यूटी औषधि का नया विकल्प माना जा रहा है, बल्कि गर्भपात होने वाले भ्रूण की बहुत मांग है। गुआंगडोंग प्रांत के अस्पतालों में इसका अवैध धंधा जोरों पर हैं।

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप
मिस लियू एक ताइवानी बिजनेसमैन के यहां नौकर है। उसने मैगजीन को बताया कि सामुहिक भोज में मालिक के यहां आने वाले लोगों की यही मांग होती है। लियु मैगजीन के संवाददाता को उस जगह ले गई, जहां भ्रूण को पकाया जा रहा था।

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप


गजीन ने सूप बनाने, भ्रूण को काटने आदि की पूरी प्रक्रिया देखी। मार्च 2003 में बींगयान गुआंगझी में पुलिस से 28 फीमेल बेबी से भरे ट्रक को सीज किया था। इनमें से सबसे ज्यादा उम्र का शिशु भी तीन महीने का था। 

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

सबसे बड़ी बात यह है कि लोग बिना कोई शर्म और घृणा के ऐसे काम किए जा रहे हैं। माओ के कल्चरल रिवोल्यूशन से लेकर अब तक चीन में नैतिकता और मानव जाति के प्रति सम्मान की भावना खत्म हो चुकी है। 

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप


सिओल टाइम्स के मुताबिक, इसका सबसे बड़ा कारण चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का अमानवीय रवैया और मानवाधिकारों का उल्लंघन है। इस कारण चीनी समाज में नरभक्षण की मान्यताओं ने जन्म ले लिया। 
सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

सिओल टाइम्स में छपा था चीन का नंगा सच, सेक्स के लिए पीते थे बच्चे का सूप

sabhar : bhaskar.com


Read more

पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

0

पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

हमेशा विवादों से घिरी रहने वाली पॉप सिंगर माइली साइरस ने एक बार फिर विवादित एक्ट किया है। एक म्यूजिक अवॉर्ड सेरेमनी में उन्होंने स्टेज पर ही सिगरेट पीना शुरू कर दिया। रविवार को आयोजित किए गए एमटीवी यूरोप म्यूजिक अवॉर्ड के दौरान अपने अनूठे अंदाज के कपड़े पहनकर स्टेज पर पहुंचीं माइली ने सिगरेट सुलगाकर सभी को चौंका दिया।
 
माइली को इस आयोजन के दौरान बेस्ट वीडियो के लिए सम्मानित किया जाना था। अवॉर्ड सेरेमनी में केटी पैरी, ऐली गॉल्डिंग और लैगी अजालिया जैसे सितारे भी मौजूद थे।
 
माइली पहले भी बड़े-बड़े विवादों खड़े कर चुकी हैं। ऐसा लगता है जैसे उन्हें विवादों से काफी लगाव है। कुछ भी हो, लेकिन फ्री पब्लिसिटी तो उन्हें मिल ही जाती है।


पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

15 साल की उम्र में कराया था न्यूड फोटोशूट:
 
माइली सायरस सबसे पहले उस समय विवादों में आईं, जब उन्होंने 2008 में 'वैनिटी फेयर' मैगजीन जून अंक के लिए न्यूड फोटोशूट कराया था। इस फोटोशूट में माइली न्यूड होकर एक चादर में लिपटी नजर आई थीं। इतना ही नहीं फोटोशूट की कुछ तस्वीरों में उनके पिता बिली रे साइरस भी साथ थे। हालांकि, इसके लिए उन्हें एक मोटी रकम मिली थी, लेकिन जब यह अंक मार्केट में आया तो माइली की काफी आलोचना हुई। बाद में बाप और बेटी, दोनों ने ही जनता से माफी मांगी थी।
पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

जुलाई 2008 में माइली की एक तस्वीर मीडिया में आई, जिसमें वे मिडरिफ पहनकर शॉवर में नहाते नजर आई थीं। इस दौरान उनके तत्कालीन ब्वॉयफ्रेंड निक जॉन भी साथ थे। गौर करने वाली बात यह है कि माइली इस समय मात्र 15 साल की थीं।

पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

अगस्त 2009 में पॉप संगीत की दुनिया की यह बैड गर्ल एक बार फिर विवादों में घिरी, जब वह USA में एक पार्टी के दौरान पोल डांस करते नजर आई। टीन च्वाइस अवॉर्ड के दौरान माइली बहुत ही छोटे-छोटे कपड़े पहनकर पोल डांस किया। इस दौरान उनके माता-पिता साथ थे, क्या उनके सामने इस तरह के कपड़ों में देह प्रदर्शन ठीक था।

पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

फरबरी 2009 में माइली ने एशियाइयों का मजाक उड़ाया था। उन्होंने अपने मित्रों के साथ एक फोटो खिचवाया था, जिसमें वे अपनी आंखों को खीचकर एशियाई लोगों की नक़ल उतार रहे थे। हालांकि, बाद में उन्होंने माफ़ी मांग ली थी
दिसंबर 2010 में माइली सायरस साल्विया नामक नशीले पदार्थ का सेवन करते हुए पकड़ी गई थीं। इस वीडियो में माइली उत्तेजक कपड़े पहनकर मस्ती करती भी नजर आई थीं। साल्विया कैलिफ़ोर्निया में एक वैध नशीला द्रव्य है। वीडियो उनके ही एक फ्रेंड ने लीक किया था।जनवरी 2012 में माइली उस समय विवादों में घिरीं जब उन्होंने अपने बर्थडे ट्रीट दी। बर्थडे पर ट्रीट सभी देते हैं, लेकिन माइली की यह ट्रीट एक x-रेटेड ट्रीट थी। इस पार्टी में माइली ने लिंग के आकार का केक बनवाया था। घटना काफी दिनों तक दुनियाभर की मीडिया में छाई रही।न 2013 में माइली का नया वीडियो जब मार्केट में आया तो लोग हैरान रह गए। यहां फिर माइली विवादों में घिरीं। इस वीडियो में माइली रोमांस के नाम पर अश्लील हरकतें करती नजर आईं। 'वे कांट स्टॉप' नाम का यह वीडियो उस 'Can't be tamed' का अगला भाग था।विवादों के सफ़र में निकली माइली फिर एक बार चर्चा में आईं जब अगस्त 2013 में उनके काफी अश्लील VMA परफॉरमेंस की तस्वीरें मीडिया में आईं।

पिता संग विवादित फोटोशूट से अश्लील केक तक, किए हैं इन्होनें बड़े-बड़े कांड!

माइली, जब 17 साल की हुईं तो उन्होंने अपने लेफ्ट ब्रेस्ट के नीचे एक टैटू गुदवाया, जबकि वे अभी बालिग़ नहीं हुई थीं। इस टैटू में लिखा हुआ था 'JUST BREATH'। हालांकि, बाद में उनके पैरेंट्स इस टैटू के संदर्भ में सफाई देते नजर आए थे। sabhar : bhaskar.com


Read more

सोमवार, 11 नवंबर 2013

क्या ब्रमांड मे अनेक विश्व है

0




हमारे पौराणिक एवं धार्मिक पुस्तको  मे अनन्त सृष्टि की कल्पना की  गयी है 
हमारे पौराणिक एवं धार्मिक पुस्तको  मे अनन्त सृष्टि की कल्पना की  गयी है विज्ञान भी अब एक से ज्यादे विश्‍व को मानने लगा है | राजर पेनरोज़ जो की गणितग्य है  लेकिन खगौल विज्ञान मे उनका महत्वा पूर्ण योगदान है |उन्होने अपनी पिछली पुस्तक "द एम्पर्स न्यू माएंड " मस्तिष्क और चेतना को लेकर थी , जी बहूत चर्चित हुई थी |उनकी नयी किताब " साएकल्स आफ टाईम : एन  एक्सट्रा आर्डनरी न्यू आफ द यूनिवर्स " मे नयी अवधारणा के मुताबिक  ब्रमांड अनन्त है वह कभी नष्ट नहीं होता उसमे उसमे अनन्त कल्पो के चक्र एक  के बाद आते रहते है आम तौर पर विज्ञान मे प्रचलित है की  सृष्टि का आरंभ एक विग बैक  या बड़े विस्फोट से हुई है , इसके बाद ब्रमांड फैलता गया  जो अब भी फैल रहा है  एक समय के बाद ब्रमांड के फैलने की उर्जा समाप्त हो जायेगी और ब्रमांड पुनः छोटे से बिन्दु पे आ जायेगी | पेनरोज़ की अवधारणा इससे विल्कुल अलग है  वह समय के चक्र की अवधारणा सामने रखते है  उनका कहना है की  एक 'एओन ' या कल्प की समाप्ति ब्रमांड की ऊर्जा खत्म होने के साथ होती है पर ब्रमांड सिकुड़ कर खत्म नहीं हो जाता ऊर्जा खत्म होने से  ब्रमांड की मास या द्रब्यमान समाप्त हो जाता है, द्रब्यमान समाप्त होने से  समय काल मे कोई भेद नहीं रह जाता |जब मास ही नहीं होता  तो भूत भविष्य , छोटा बड़ा ये सारी अवधारणाये खत्म हो जाती है एक अर्थ मे ब्रमांड की अपनी विशालता की स्मृति खत्म हो जाती है , तब यह अंत अगले बिग बैंक की शुरूआत होती है |और यह अनन्त काल तक जारी रहता है  इसके लिये उन्होने कयी प्रमाण दिये है हालांकि वो कहते है की इसमे अभी और काम करने की आवश्कता है क़्वाण्टम मेकेनिक्स से भी से भी अनेक सृष्टि की अवधारणा मिलती है भौतिक के स्ट्रिंग सिधांत के अनुसार चार आयाम के अलावा भी कई आयाम है ये सारे आयाम हमारी दुनिया मे कयी दुनिया बनाते है  और इन दुनियाओ का आपस मे सम्बंध गुरुत्वा कर्षण के कारण होता है | जो तमाम स्तरों पर एक ही होता है  तो केया वैज्ञान कही ना कही इस्वर की अवधारणा को स्वीकार तो नहीं कर रहे स्वय विचार करे | REF : hindustaan dainiki , dainik jagaran  sabhar : http://vigyanindia.com/

Read more

पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!

0

पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!

गुजरे ज़माने की बेहतरीन एक्ट्रेस माला सिन्हा आज अपना 77वां बर्थ-डे मना रही हैं। माला सिन्हा ने फ़िल्मों में लंबा सफर तय किया और अपनी अलग पहचान बनाई।
'बादशाह' से हिंदी फ़िल्मों में प्रवेश करने वाली माला सिन्हा ने एक सौ से कुछ ज्यादा फ़िल्में कीं। 'प्यासा' उनकी पहली फ़िल्म थी और इसके बाद उन्होंने अपने करियर में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।
वैसे हर सितारे के साथ कोई न विवाद तो जुड़ता ही है ऐसे में माला सिन्हा भला इससे कैसे पीछा छुड़ा सकती थीं। माला को उस समय की उन एक्ट्रेसेस में शुमार किया जाता था जिन्हें पैसों से खासा मोह था।
ऐसा ही एक वाकया एक समय सामने आया था जिसने माला सिन्हा के पैसों के प्रति उनके मोह को जगजाहिर कर दिया था और वह बेहद चर्चा में भी आ गईं थीं।
पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!
सत्तर के दशक के शुरुआती दौर की बात है। उस समय धीरेंद्र किशन इंडस्ट्री के मशहूर फोटोग्राफर हुआ करते थे। उनका इतना ज्य़ादा नाम था कि इंडस्ट्री में न्यू एंट्री पाने वाला हर एक्टर धीरेंद्र जी से ही फोटोशूट करवाता था। उन्होंने माला सिन्हा, साधना, आशा पारेख, शर्मिला टैगोर, राखी, नंदा आदि उस दौर की फेमस अभिनेत्रियों के फोटोशूट किए थे।  खैर, धीरेंद्र जी ने पहले कभी माला सिन्हा का फोटोशूट किया था, जिसके 700 रुपए बाकी थे। उन्होंने एक कर्मचारी को बिल देकर माला जी के घर से रुपए लाने को कहा। वह कर्मचारी जब माला जी के घर पहुंचा तो वहां पर पहले से काफी भीड़ लगी थी।
पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!

माला जी तो मिलीं नहीं, लेकिन उनके पिता अल्बर्ट सिन्हा घर पर ही थे। उस कर्मचारी ने उनके वाचमैन से मिलने का आग्रह किया तो उसने बोला कि साहब बिज़ी हैं, बाद में आना। जब वाचमैन से बात नहीं बनी तो मैंने वहां पर मौजूद उनके ड्राइवर से बात की। उनके ड्राइवर ने मेरा मैसेज़ अल्बर्ट तक पहुंचाया और वापस आकर बोला कि साहब फिल्म की स्क्रिप्ट में बिज़ी हैं, फिर किसी और दिन आना।असल में अल्बर्ट जी किसी का बकाया पैसे देने में बहुत ना-नुकुर करते थे। खैर, उस कर्मचारी ने परेशान होकर वहीं से धीरेंद्र जी को फोन किया और वहां की स्थिति से वाकिफ़ कराया तो धीरेंद्र जी ने कहा- 'वापस चले आओ, उनके यहां पर इन्कम टैक्स का छापा पड़ा है।' वह वहां से वापस लौट आया। हैरत की बात तो यह है कि माला सिन्हा के घर में इन्कम टैक्स वालों ने उनके बाथरूम की एक दीवार से 12  लाख रुपए नकद बरामद किए थे।

पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!

उस दौर में इतनी रकम बहुत मायने रखती थी। अल्बर्ट जी उन रुपयों को अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने कोर्ट में गुहार लगाई। कोर्ट ने उनसे पूछा कि आपके घर इतनी बड़ी रकम कहां से आई...? जवाब में अल्बर्ट जी ने कहा- 'ये रुपए मेरी बेटी माला सिन्हा द्वारा फिल्मों से कमाए हुए हैं।'
पैसों से था इतना प्यार, माला ने कुबूली थी वेश्यावृत्ति करने की बात!

कोर्ट ने माला सिन्हा से कहा- 'इन रुपयों की वापसी एक ही कंडीशन में हो सकती है। अगर तुम लिखित में यह स्वीकार करो कि यह रकम तुमने व्यक्तिगत तरीके (वेश्यावृत्ति) से कमाई है...!' उस दौर की इतनी बड़ी स्टार के लिए यह स्वीकार करना काफी मुश्किल था, लेकिन माला जी को भी अपने पिता की तरह रुपयों का बेहद मोह था। इसलिए माला जी ने कोर्ट की बात मान ली। इसके बाद उनके रुपए वापस कर दिए गए। इससे तो आपको अंदाजा लग ही गया होगा कि माला सिन्हा को पैसों से कितना प्यार रहा है! sabhar : bhaskar.com


Read more

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting