Loading...

शनिवार, 7 सितंबर 2013

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

0

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

पावर लिफ्टर यूलिया विक्टोरोवना उर्फ जूलिया विन्स की तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो रही है। गुड़िया की तरह खूबसूरत चेहरा और मजबूत बॉडी वाली 17 वर्षीय जूलिया रूस के इन्जेल्स की रहने वाली हैं।

जूलिया का कहना है कि उसने खुद को मजबूत बनाने और आत्मविश्वास बढाने के लिए वर्क आउट करना शुरू किया था, लेकिन प्रोफेशनल पावरलिफ्टर बनने की कोई इच्छा नही थी। जूलिया ने बिना किसी प्रोफेशनल ट्रेनर के एक्सरसाइज करना शुरू किया।

मगर, बाद में उसने स्कूल में पावरलिफ्टिंग और वेटलिफ्टिंग के लिए कोच की मदद ली। इस दौरान उसने महसूस किया कि उसे अपने शरीर को हार्मोन्स के अनुसार विकसित करना चाहिए। एक साल के अंदर ही उसने असामान्य डेवलपमेंट की। वह सितंबर को होने वाले पावरलिफ्टिंग कॉम्पीटिशन में पहली बार शिरकत करने की तैयारी कर रही हैं।
बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी
बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

बड़े-बड़े पहलवानों को मात देती है इनकी बॉडी, खूबसूरती है जन्नत की हूर जैसी

sabhar : bhaskar.com


Read more

भारतीय मूल की मशहूर अमेरिकी मॉडल पद्मा लक्ष्‍मी

0

भारतीय मूल की मशहूर अमेरिकी मॉडल पद्मा लक्ष्‍मी 'प्‍लेब्‍वॉय' पत्रिका के कवर पेज पर जल्‍द ही दिखाई देंगी.बॉलीवुड अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा के बाद पद्मा लक्ष्‍मी ऐसी दूसरी भारतीय हैं जो प्‍लेब्‍वॉय पत्रिका के कवर पेज पर नजर आएंगे.




Read more

इस एक आविष्कार से खत्म हो जाएगी दो बड़ी समस्याएं

0

UNIQUE :इस एक आविष्कार से खत्म हो जाएगी दो बड़ी समस्याएं
पुणे: अब जल्द ही घर में जलने वाले लैम्प से आप किचन में खाना भी बना सकते हैं। महाराष्ट्र के इंजीनियरों ने एक ऐसा लैंप विकसित किया है जिसकी सहायत से आप अपने घर को रौशन करने साथ-साथ उस के सहारे स्वादिस्ट भोजन भी पका सकते हैं। इस की सब से खास बात यह रहेगी इससे प्रदूषण फ़ैलाने का खतरा भी नहीं रहेगा।
 
यह लैम्प कम चूल्हा खासतौर पर ग्रामीण इलाकों को ध्यान में रख कर तैयार किया गया है। ग्रामीण इलाकों में इंधन और बिजली की कमी के चलते लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। महाराष्ट्र के फलटन में निंबकर कृषि शोध संस्थान (एनआईआरआई) के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित किये गये इस उपकरण को लैनस्टोव (खाना पकाने वाले स्टोव से जुड़ा हुआ लालटेन) नाम दिया गया है।
UNIQUE :इस एक आविष्कार से खत्म हो जाएगी दो बड़ी समस्याएं

एक स्टोव की कीमत 2 हज़ार के आसपास रखी गई है तांकि इसे हर वर्ग के लोग आसानी से खरीद सकें। इस चूल्हे पर दाल,चावल और 10 लीटर पानी तक आसानी से उबाला जा सकता है। मिट्टीतेल से चलने के कारण यह काफी सस्ता भी है और इसे प्रदूषण भी नहीं होता। हालांकि इस पर खाना बनाने के लिए आप को खास तरह के बर्तन बाज़ार से खरीदने पड़ेंगे। इसे चलाने के लिए हर महीने तक़रीबन 300 रूपये का खर्च मिट्टीतेल पर आयेगा।   
 
UNIQUE :इस एक आविष्कार से खत्म हो जाएगी दो बड़ी समस्याएं
दल का नेतृत्व करने वाले आईआईटी में पढ़े अनिल राजवंशी ने बताया कि स्वच्छ प्रज्ज्वलित किरासन लैनस्टोव शानदार प्रकाश देगा जो 200-300 वाट के बिजली के एक बल्ब के प्रकाश के समान होगा और इससे एलपीजी जैसे एक चूल्हे पर पांच लोगों के एक परिवार के लिए खाना भी पकाया जा सकेगा। 
 संस्थान द्वारा प्रकाशित एक शोध रिपोर्ट में उन्होंने बताया है कि हमारी जानकारी के मुताबिक यह पहला उपकरण है जिससे प्रकाश और खाना पकाना दोनों काम किए जा सकते हैं। इससे जबरदस्त ऊर्जा और ईंधन की बचत की जा सकती है।
 
इस लैनस्टोव में नौ लीटर का मिट्टीतेल का एक सिलिंडर जुड़ा हुआ है। इसके अलावा इसमें बेहतर प्रकाश देने वाला एक लालटेन और एक भाप कुकर है जो गर्म पाइप सिद्धांत पर आधारित है। sabhar : bhaskar.com



Read more

शुक्रवार, 6 सितंबर 2013

नींबू के 15 हैरान कर देने वाले सौंदर्य लाभ

0





नींबू का इस्तेमाल काफी समय से ही औषधि के रूप में किया जाता रहा है। शरबत और सलाद में तो इसका इस्तेमाल होता ही है, साथ ही यह कई और चीजों में भी कारगर साबित होता है। क्‍या आप जानती हैं कि चेहरे के लिये नींबू एक प्राकृतिक ब्‍लीच होता है। यह सिट्रस फल हमारी त्‍वचा के लिये बहुत ही अच्‍छा माना जाता है। आप नींबू के छिलके का प्रयोग डेड स्‍किन, ब्‍लैकहेड को साफ करने के लिये प्रयोग कर सकते हैं, यह खुले हुए पोर्स को भी ठीक करने में मददगार होता है। नींबू का सौंदर्य लाभ केवल यहीं पर नहीं समाप्‍त होता है बल्‍कि इसेस बालों की डैंड्रफ भी साफ हो जाती है। अगर बाल झड़ रहें हो तो आप नींबू के रस में नारियल पानी मिला कर बालों में लगा लीजिये, इससे बाल झड़ना बंद हो जाएंगे। अंडे के सफेद भाग में नींबू की कुछ बूंदे मिलाइये, इसे चेहरे पर लगाइये और सूखने दीजिये। फिर इसे पील की तरह चेहरे से निकालिये और चेहरे को ठंडे पानी से धो लीजिये, आपका चेहरा चमक जाएगा। इसी तरह से नींबू के और भी अच्‍छे-अच्‍छे प्रयोग हैं, तो चलिये जानते हैं इसके सौंदर्य लाभ के बारे में 


2. नींबू से दिखें जवान उम्र बढ़ने के साथ-साथ त्वचा पर इसके निशान दिखने लगते हैं। नींबू एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट भी है, जो त्वचा की झुर्रियों से छुटकारा दिलाता है। झुर्रियों से छुटकारा पाने के लिए अगर आप फेस पैक बनाना चाहते हैं, तो कुछ बूंद नींबू के रस में एक बूंद मीठा बादाम तेल मिलाएं। इस पैक को अपने चेहरे पर 20 मिनट तक रखें। आप चाहें तो नींबू के रस और सेब के सिरके को बराबर मात्रा में मिलाकर भी चेहरे पर लगा सकते हैं।



3. ऑयली स्किन से पाएं छुटकारा पिंपल और ब्लैकहेड्स जैसी कई समस्याओं की जड़ ऑयली स्किन होती है। ऑयली स्किन के लिए नींबू काफी कारगर होता है। नींबू में पाए जाने वाला साइट्रिक एसिड त्वचा पर जमे तेल के अणुओं को तोड़ता है, जिससे त्चचा नर्म और चिकनी होती है। नींबू को पानी में मिला लें और रूई की मदद से चेहरे पर लगाएं। बेहतर परिणाम के लिए हर दिन इसका इस्तेमाल करें।

4. त्वचा में लाएं निखार ताजे नींबू के जूस से त्वचा नर्म और मुलायम होती है। चेहरे, घुटने और कोहनी की त्वचा को मुलायम और चमकदार बनाने के लिए इस पर नींबू का रस लगाएं। इसके अलावा नींबू का छिलका नेचुरल टॉनिक का काम करता है और इसको त्वचा पर रगड़ने से परतों को उखाड़ने में मदद मिलती है। नींबू युक्त तेल से रूखी त्वचा में भी निखार आता है।



5. होठों को बनाए खूबसूरत नींबू का रस होंठ के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। सूखे और फटे होंठ पर नींबू का सर लगाने से काफी फायदा पहुंचता है। आप चाहें तो मिल्क क्रीम और शहद में नींबू का रस मिलाकर प्राकृतिक लिप बाम भी बना सकते हैं। इसे लगाने से आपके होंठों की नमी बरकरार रहेगी।




6.अंडरआर्म के लिए फायदेमंद अक्सर हमारे अंडरआर्म काले पड़ जाते हैं और उससे बदबू भी आने लगती है। दरअसल पसीने, गर्मी और प्रदुषण के कारण ऐसा होता है। ऐसे में अगर आप पार्टी या दोस्तों से मिलने जाएंगे तो आपको शर्मिदा होना पड़ सकता है। इससे छुटकारा पाने के लिए रूई के सहारे नींबू अंडरआर्म में लगाएं या फिर नींबू के एक टुकड़े को उसपर रगड़ें।





7. मजबूत और खूबसूरत नाखुन क्या आप नाजुक और पीले नाखुन की समस्या से जूझ रहे हैं? आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। नींबू के रस में नाखुन को डुबाने से वे मजबूत होते हैं। इससे आपके नाखुन का भद्दापन और पीलापन भी दूर होगा। 



 8. मुंहासों से पाए निजात नींबू का रस कील-मुहांसों पर भी काफी असरदार होता है। नींबू में विटामिन सी पाया जाता है, जो आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार रखता है। वहीं इसमें पाए जाने वाले एल्कलाइन से कील-मुहांसों को जन्म देने वाले बैक्टीरिया दूर रहते हैं।  

9. नींबू से बनाएं सुंदर बांह आपका बांह भी उतना ही खुला रहता है, जितना कि चेहरा। इसलिए बाहों का भी आपको खास ख्याल रखना चाहिए। शहद और बादाम के तेल में नींबू का रस मिलाकर बांहों का मसाज करने से वह नर्म और साफ रहते हैं। इसके अलावा यह काले पड़े कोहनी में भी निखार लाता है

10. वजन कम करने में भी मददगार नींबू में पेक्टिन फाइबर पाया जाता है, जो भूख की ललक से निपटने में मददगार होता है। पेक्टिनयुक्त भोजन को काफी अच्छा माना जाता है, क्योंकि इसमें कैलोरी और फैट काफी कम मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही यह आपके ब्लड सूगर और इंसुलिन के स्तर को भी सामान्य रखता है। नींबू के रस को जब गुनगुने पानी के साथ लिया जाता है तो यह शरीर के मेटाबोलिज्म को भी बढ़ा देता है। इससे ज्यादा से ज्यादा कैलोरी बर्न होती है और वजन कम होता है।





11. सांसों में लाए ताजगी और दांतों को रखे साफ नींबू सांसों की दुर्गंध से भी छुटकारा दिलाता है। साथ ही यह दांतों की तकलीफ से भी निजात मिलती है। करीब आधे नींबू को एक चुटकी नमक और बेकिंग सोडा के साथ दांतों पर रगड़ने से दांत चमकदार होते हैं।  



12. डैंड्रफ से पाएं छुटकारा क्या आपको डैंड्रफ के कारण शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है? आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। अपने हेयर ऑयल में नींबू का रस मिला कर कुछ देर सर का मसाज करें। बाद में बालों को अच्छे से धो लें। इससे डैंड्रफ छू मंतर हो जाएगा।  

13. बालों को हाइलाइट और हेयर कलर हटाने में मददगार अगर आप अपने बालों को हाइलाइट करना चाहते हैं या हेयर कलर से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो इसमें नींबू काफी असरदार साबित होगा। अपने बालों के कुछ लटों पर नींबू का रस लगाएं और इसे धूप में सूखने दें। इससे यह प्राकृति रूप से हाइलाइट हो जाएंगे। नींबू में पाए जाने वाले साइट्रिक एसिड से हेयर कलर भी हल्का पड़ जाता है।  

14. पाचन के लिए अच्छा अगर आपको पाचन की समस्या है, तो नींबू इससे भी बखूबी निपटता है। एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस और शहद मिला कर इसका सेवन करें। इससे आपके शरीर के अनावश्यक टॉक्सिन बाहर निकल जाएंगे। साथ ही पाचन तंत्र अच्छा रहने से आपके त्वचा में भी निखार आएगा।
15. नींबे से होने वाले स्वास्थ लाभ नींबू से और भी कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह पाचन तंत्र को तो ठीक रखता ही है, साथ ही गले की खरास, हृदय में जलन और खुजलाहट को भी दूर करता है। नींबू से घाव के भरने में भी मदद मिलती है। वहीं यह हड्डी और कनेक्टिव टिशू को भी स्वस्थ रखता है।  
सिर कि खुशकी मिटाए यह सिर में खुजली हो रही हो तो नींबू का रस लगाएं, इससे इंफेक्‍शन दूर हो जाएगा।    

sabhar :hindi.boldsky.com

Read more

सेक्‍स करके लड़कियों का शुद्धिकरण करने वाला कश्‍मीरी मौलवी गिरफ्तार

0



श्रीनगर। जम्‍मू-कश्‍मीर के बडगाम जिले के खानसाहिब में स्थित धार्मिक केंद्र चलता है। इस केंद्र में धर्म से जुड़ी शिक्षा दी जाती है, वो भी सिर्फ लड़कियों को। 500 लड़कियों से भरे इस संस्‍थान में धर्म की आड़ में हवस का खेल पिछले करीब 4 साल से चलता रहा। असल में यहां का स्‍वयंभू बाबा सैय्यद गुलज़ार का जिस लड़की पर दिल आ जाता, वो उसे उच्‍च धार्मिक शिक्षा देने की बात करता और कहता, "उच्‍च कोटि की दीक्षा प्राप्‍त करने के लिये तुम्‍हें शुद्ध होना पड़ेगा।" जिस बाबा के प्रवचन हर रोज लाखों लोग टीवी चैनलों पर सुनते हों, जिनके अखबारों में विज्ञापन लगते हों और आये दिन शिविरों का आयोजन होते हों, उसके बहकावे में आना कितना आसान होगा, इसका अंदाजा आप लगा सकते हैं। शुद्धिकरण के नाम पर वो बाबा लड़कियों को कमरे में अकेले बुलाता और उन्‍हें निर्वस्‍त्र करता और लंबे समय तक फोरसेक्‍स करने के बाद उनके साथ बलात्‍कार करता। यह सब होता था हुज़रा-ए-पाक यानी उसके पर्सनल चैम्‍बर में। खास बात यह है कि इस बात का पता उसके संस्‍थान में सिर्फ उसे और उसकी एक असिस्‍टेंट शकीला बानो को था। असल में जब भी कोई लड़की पढ़ने आती, तो शकीला बानो उस लड़की की काउंसिलिंग करती और कहती कि अगर तुम्‍हें ज्ञान का असीम भंडार प्राप्‍त करना है, तो पीर साहब की सेवा करनी होगी। यहां पर 'पीर साहब' वही सैय्यद गुलजार है। इस बाबा के रैकेट का खुलासा तब हुआ जब उसी के एक शिष्‍य इम्तियाज अहमद सोफी ने उसे एक शिष्‍या से यौन संबंध स्‍थापित करते देख लिया। उसने तुरंत पुलिस को सूचना। पुलिस ने संस्‍थान पर दबिश मारी और सैय्यद को गिरफ्तार कर लिया। बडगाम के एसपी उत्‍तमचंद के अनुसार गुलजार के दो साथियों की अभी तलाश की जा रही है। साथ ही पीड़ित लड़कियों से बयान रिकॉर्ड किये गये हैं और कुछ के बयान अभी रिकॉर्ड किये जाने हैं। sabhar : http://hindi.oneindia.in

Read more

ज्यादा पैसा इंसान को बना देता है पागल !

0


सैक्रामेटो। सच ही कहा है कि पैसा इंसान को पागल बना देता है, दरअसल धनी व्यक्ति ज्यादा तंगदिल, कंजूस, व्यक्तिवादी, भौतिकवादी बन जाता है। जिससे वह समाज और परिवार से कट जाता है और खुद की रंगीन दुनिया में अकेला रह जाता है। कैलिफोर्निया की बर्कले यूनिवर्सिटी के दो प्रोफेसरों ने अपने शोध में इस बात का खुलासा किया है कि अमीर व्यक्ति तंगदिल, कंजूस होता है और वह वक्त पर दूसरों की मदद करने में विश्वास नहीं रखता। उसके लिए परिवार की थोड़ी बहुत महत्ता तो होती है, लेकिन उसकी परिभाषा से समाज सिरे से गायब हो जाता है। शोध के अनुसार जब इंसान अमीर बन जाता है तो उसे दूसरों की परेशानियां दिखनी बंद हो जाती हैं और वह खुद में व्यस्त हो जाता है।
ग्रेटर गुड साइंस सेंटर के निदेशक और बर्कले यूनिवर्सिटी में मनोविज्ञान के प्रोफेसर दाशे केल्नर और विकासात्मक मनोविज्ञान की प्रोफेसर पैटि्रशिया ग्रीनफील्ड ने अपने शोध के जरिए यह बताया है कि किस तरह से लोगों की नजर अमीर होने पर बदल जाती है। इस शोध के तहत पैट्ररशिया ने मेक्सिको के एक गांव शियापास का 40 साल तक अध्ययन किया और साथ ही उन्होंने गूगल पर कई लाख किताबों का अध्ययन करके यह पता लगाने की कोशिश की किस तरह अमीरी आने से लोगों की शब्दावली भी बदल जाती है।


इस शोध से पता चला कि मेक्सिको के शियापास गांव के लोग जब गरीब थे तो वे सामुदायिक कार्यक्रमों का आयोजन करते थे और उसमें हिस्सेदारी लेते थे। पैटि्रशिया ने कहा कि जब इस गांव के लोग अमीर हो गए तो वहां के लोगों में व्यक्तिवाद की भावना बढने लगी और उनका सामाजिक बंधन धीरे-धीरे कमजोर पड़ने लगा। पैटि्रशिया के मुताबिक अमेरिका में भी यही बदलाव आया है।  sabhar :http://khabar.ibnlive.in.com/

Read more

जेल में आसाराम को रोज दो घंटे के लिए चाहिए लेडी डॉक्टर

0


जोधपुर। नाबालिग से यौन शोषण के आरोपों के चलते सलाखों के पीछे पहुंचे आसाराम ने अपनी तबीयत खराब होने का हवाला देते हुए जेल में अपने लिए महिला आयुर्वेदिक डॉक्टर उपलब्ध कराने की मांग की है। आसाराम ने इसके लिए जोधपुर के सेशन जज के नाम पर जेल अधीक्षक को पत्र लिखा है।
आसाराम ने अपने पत्र में जेल में इस महिला डॉक्टर नीता को प्रतिदिन 2 घंटे भेजने को कहा है। पत्र में लिखा गया है कि डॉक्टर नीता पिछले 2-3 साल से लगातार उनका इलाज कर रही हैं। वो आश्रम से जुड़ी डॉक्टर हैं।
गौरतलब है कि जिस वक्त आसाराम को जोधपुर कोर्ट में पेश किया गया था उस वक्त भी डॉक्टर नीता आसाराम से मिलने पहुंची थीं लेकिन उन्हें मिलने नहीं दिया गया। इससे पहले जब आसाराम आरएसी के गेस्ट हाउस में थे उस वक्त वो आसाराम का खाना लेकर पहुंची थीं लेकिन उन्हें वहां भी जाने नहीं दिया गया था। sabhar :http://khabar.ibnlive.in.com

Read more

आसाराम बापू पर फिल्म बनाएंगे प्रकाश झा

0



मुंबई। बॉलीवुड के जानेमाने फिल्मकार प्रकाश झा समाजसेवी अन्ना हजारे के बाद आसाराम बापू पर फिल्म बना सकते हैं। प्रकाश झा ने अभी हाल ही में समाज सेवी अन्ना हजारे से प्रेरित फिल्म ‘सत्याग्रह’ का निर्माण किया है और अब आसाराम बापू से प्रेरित फिल्म बना सकते हैं। प्रकाश झा ने कहा कि ‘सत्याग्रह’ के बाद मैं कुछ समय के लिये ब्रेक लूंगा और उसके बाद काम शुरू करूंगा। मैं राजनीति से प्रेरित फिल्म नहीं बनाउंगा। मेरी अगली फिल्म मसाला फिल्म होगी।
प्रकाश झा ने कहा कि मेरी अगली परियोजना सतसंग है जो आसाराम बापू पर आधारित होगी। इसके अलावा मैं ‘चक्रव्यूह-2’ और ‘राजनीति-2’ का भी निर्माण करूंगा। उन्होंने कहा ‘सत्याग्रह’ के सीक्वल के बारे में अभी मैंने नहीं सोचा है। अच्छी स्क्रिप्ट मिलने पर मैं ‘सत्याग्रह’ के सीक्वल का भी निर्माण करूंगा। sabhar :http://khabar.ibnlive.in.com

Read more

मस्तिष्क को दुरुस्त बनाती है गहरी नींद

0


Image Loading




जब आप सोते हैं, तब वास्तव में आपके मस्तिष्क में कुछ जीन जागृत हो जाते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि मस्तिष्क की मरम्मत व मस्तिष्क कोशिकाओं के विकास के लिए ये जीन बहुत महत्वपूर्ण हैं।अमेरिका में वैज्ञानिकों का मानना है कि पर्याप्त नींद से विशिष्ट मस्तिष्क कोशिकाओं का निर्माण तेज होता है। इन कोशिकाओं को ओलिगोडेंड्रोसाइट्स कहा जाता है, जो मस्तिष्क के चारों ओर सुरक्षात्मक कवच तैयार करती हैं।
स्वस्थ मस्तिष्क में ओलिगोडेंड्रोसाइट्स माइलीन सुरक्षात्मक कवच का निर्माण करती हैं। यह कुछ वैसा ही कवच होता है, जैसा कि बिजली के तारों का रोधक कवच होता है। माइलीन विद्युत संवेगों को त्वरित रूप से एक कोशिका से दूसरी कोशिका में पहुंचने में मदद करता है।साइंस डेली' के मुताबिक 'द जर्नल ऑफ न्यूरोसाइंस' के चार सितंबर को जारी अंक में प्रकाशित जानवरों पर हुए एक अध्ययन के अनुसार ये परिणाम मस्तिष्क की मरम्मत व विकास में नींद की भूमिका के संबंध में वैज्ञानिकों को नई जानकारियां इकट्ठी करने में मदद करेंगे।
वैज्ञानिक सालों से यह जानते थे कि जीन सोने के दौरान सक्रिय हो जाते हैं, जबकि हमारे जागने के दौरान ये सुप्त अवस्था में चले जाते हैं।
वर्तमान अध्ययन मेडिसन के विस्कॉन्सिन विश्वविद्यालय की काइरा सिर्ली व उनके साथियों ने किया। जिसमें उन्होंने सोते हुए या जगाए रखे गए चूहों में ओलिगोडेंड्रोसाइट्स जीनों की सक्रियता मापी।
अध्ययनकर्ताओं के समूह ने पाया कि नींद के दौरान माइलीन निर्माण से जुड़े जीन सक्रिय हो जाते हैं। इसके विपरीत कोशिका मृत्यु व कोशिकीय तनाव प्रक्रिया की ओर इशारा करने वाले जीन जानवरों के जागने के दौरान जागृत हो जाते हैं।
स्विटजरलैंड के लॉसेन विश्वविद्यालय में निद्रा अध्ययनकर्ता मेहदी ताफ्ती ने कहा, ''ये परिणाम इशारा करते हैं कि नींद व अनिद्रा मस्तिष्क की किस तरह मरम्मत करते हैं या उसे नुकसान पहुंचाते हैं।'' sabhar :http://www.livehindustan.com

Read more

शिवा के मोबाइल में है आसाराम बापू की अश्लील क्लिप!

0






आसाराम बापू को लेकर हो रहे नित नए खुलासे से उनकी मुश्किलें बढ़ती चली जा रही हैं। पहले आसाराम का सेवादार शिवा उनके बारे में खुलासे कर रहा था, अब शिवा के मोबाइल ने उनके खुलासे करने शुरू कर दिए हैं। शिवा के खुलासों से धीरे-धीरे आसाराम की काली करतूतें सामने आ रही है।
शिवा के मोबाइल में ऐसे वीडियो क्लिप मिले हैं, जो कि आसाराम की काली करतूतों को बयान कर रहे हैं। इस वीडियो में आसाराम एक युवती के साथ नजर आ रहे हैं। युवती की पहचान नहीं हो पाई है। अभी पुलिस शिवा के मोबाइल की छानबीन कर रही है। साथ ही इस वीडियो क्लिप के बारे में गहराई से छानबीन की जा रही है। पुलिस की तरफ से इस बारे में अभी कोई बयान नहीं आया है।
नाबालिग लड़की से रेप कांड में गिरफ्तार आध्यात्मिक संत आसाराम बापू के बारे में कल खुलासा हुआ था कि आसाराम बापू अपने महिला भक्तों की अश्लील सीडी बनाकर उन्हें ब्लैकमैल किया करते थे। कहा जा रहा है कि आसाराम ध्यान की कुटिया में महिला भक्तों की सीडी बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करते थे। यह खुलासा उनके सेवादार शिवा ने ही किया था।
इससे पहले आसाराम का सेवादार शिवा ने खुलासा किया था कि आसाराम के मध्‍य प्रदेश के छिंदवाड़ा गुरुकुल की हॉस्‍टल वॉर्डन शिल्‍पी के साथ शारीरिक संबंध थे। sabhar :http://www.livehindustan.com/

Read more

गुरुवार, 5 सितंबर 2013

भारत से शुरू हुई मॉडल की प्रेम कहानी, पति को दे दिया एड्स तो मिली मौत

0

भारत से शुरू हुई मॉडल की प्रेम कहानी, पति को दे दिया एड्स तो मिली मौत

रूस में यूरल माउंटेन के जंगलों में एक मॉडल की जली हुई लाश ने पुलिस को सकते में डाल दिया है। पुलिस को आशंका है कि मॉडल की मौत के पीछे उसके पति का हाथ है। पति को शक था कि उसकी पत्नी ने उसे एड्स से संक्रमित किया है। पुलिस को 28 वर्षीय यूलिया लोशागिन की लाश विक्षिप्त और जली हुई अवस्था में मिली थी। लाश पर एक भी कपड़ा नहीं था। डीएनए टेस्ट से पुलिस ने शव की पहचान की।
पुलिस ने उसके फोटोग्राफर पति दामित्री लोशागिन को गिरफ्तार कर लिया और उससे इस क्रूर हत्या के मामले में पूछताछ की जा रही है। जांच अधिकारियों का कहना है कि यूलिया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता लगा है कि वह एचआईवी पॉजिटिव थी। वहीं, पुलिस की पूछताछ में दामित्री ने बयान दिया है कि जब उसे पता लगा कि उसकी पत्नी को एड्स है तो वह गुस्सा हो गया। उसके एड्स से संक्रमित करने के लिए उसने क्रूरतापूर्ण कृत्य किया। अब  पुलिस इस तथ्य की जांच करने में लगी है।
भारत से शुरू हुई मॉडल की प्रेम कहानी, पति को दे दिया एड्स तो मिली मौत
दामित्री ने पेशी के दौरान जज से कहा है कि उस पर लगाए गए आरोप पूरी तरह से निराधार है। वह अपनी पत्नी से बहुत प्यार करता था। दामित्री और यूलिया के प्रेम की शुरुआत भारत से हुई थी, जहां उसने यूलिया के ब्राइडल फोटो शूट के दौरान उसे प्रपोज किया था। दो साल पहले ही दोनों की शादी हुई थी। दामित्री ने बताया कि भारत के एक जंगल में यूलिया दुल्हन के कपड़ों में हाथी पर बैठी हुई थी। मैं उसके पास गया और उसे प्रपोज कर दिया। 
 भारत से शुरू हुई मॉडल की प्रेम कहानी, पति को दे दिया एड्स तो मिली मौत
मैंने कहा, मुझे तुम्हारी आंखों में दुनिया नजर आती है। मैं तुम्हारे साथ बूढ़ा होना चाहता हूं। मैं तुम्हारे साथ समुद्र किनारे हाथों में हाथ लिए घूमना चाहता हूं। उसने तुरंत हां कह दिया। उस दौरान वह मशहूर मॉडल बन चुकी थी और रूसी पत्रिकाओं में उसकी ग्लॉसी तस्वीरें प्रकाशित होती थीं। 22 अगस्त को यूलिया अपने ही पेंट हाउस पर हुई पार्टी के दौरान गायब हो गई थी। उसके परिवार ने रिपोर्ट दर्ज करवाई और सर्चिग शुरू की
पत्नी ने दिया एड्स तो पति ने उतारा मौत के घाट, भारत में किया था प्रपोज
यूलिया के रिश्तेदारों ने बताया कि वह गायब हो गई थी। इसके बावजूद भी दामित्री को कोई चिंता नहीं थी। वह सामान्य रूप से अपना काम करता रहा। पार्टी में मौजूद मेहमानों ने बताया कि उस दिन यूलिया काफी परेशान लग रही थी। यूलिया के भाई मिखाइल ने बताया कि दामित्री ने यूलिया को ढूंढने की कोई कोशिश नहीं की। उसने बताया कि वह पार्टी से आधी रात को ही उसकी कार लेकर निकल गई थी। लेकिन बाद उसने कहा कि उसकी गाड़ी घर पर ही है। 
 पत्नी ने दिया एड्स तो पति ने उतारा मौत के घाट, भारत में किया था प्रपोज
पार्टी के कुछ दिनों बाद यूलिया की लाश मिली। लेकिन वह उसे पहचान करने भी नहीं गया। उसने व्यस्त होने का बहाना बनाया। पुलिस ने बताया कि दामित्री पर हत्या के आरोप नहीं लगाए हैं, लेकिन हम लोग उसकी भूमिका की जांच कर रहे हैं। 

sabhar :  bhaskar.com



Read more

फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर

0

फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर

श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी हालांकि इस समय अपनी पढ़ाई पूरी कर रही हैं, लेकिन बॉलीवुड में बेटी को लॉन्च करने की तैयारी
श्रीदेवी ने पिछले दो साल से शुरू कर दी है।
फिटनेस और एक्टिंग की बेसिक ट्रेनिंग के साथ इन दिनों श्रीदेवी ने जाह्नवी के लिए स्टाइलिस्ट भी अपॉइन्ट की है। यह स्टाइलिस्ट जाह्नवी के लिए कॉलेज आउटफिट्स के अलावा पार्टी आउटफिट्स बना रही हैं।
लगता है श्रीदेवी अपनी बेटी को परफेक्ट दीवा बनाकर लॉन्च करना चाहती हैं।
वैसे जाह्नवी अभी केवल सोलह साल की हैं मगर उनके स्टाइल के चर्चे वैसे भी आम हैं। उन्हें सबसे स्टाइलिश स्टार डॉटर कहा जाए तो गलत नहीं होगा क्योंकि वह जब भी पब्लिक अपीयरेंस देती हैं, सबकी नजर उनपर ही टिक जाती है।आगे नजर डालिए जाह्नवी के कुछ ऐसे ही पब्लिक अपीयरेंस पर:

फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर

फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर

फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर
फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर
फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर
फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर
फिल्मों में एंट्री करेगी श्रीदेवी की 16 साल की बेटी, मां ने कसी कमर

sabhar : bhaskar.com



Read more

बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन

0

FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन
क्या आपकी सेक्शुअल लाइफ ठंडी पड़ चुकी है। अगर हां, तो इसके लिए कामसूत्र की किताब खरीदने या सेक्शुलॉजिस्ट के पास जाने की जरूरत नहीं है। इसकी वजाय आप कुछ योगा पोज अपनाकर देखिए, शायद आपकी सेक्स लाइफ फिर से रंगीन हो जाए। आप सेक्स लाइफ में आनंद पाना चाहते हैं तो आपको योगा करना चाहिए। योग के जरिए ना सिर्फ एनर्जी है, बल्कि आप पहले कहीं अधिक स्वस्थ और तरोताजा महसूस करते हैं।
आज बाजार में कामशक्तिवर्धक तरह-तरह की दवाएं और मसाज ऑयल मौजूद हैं। इनके काफी विज्ञापन भी होते हैं, पर ये उतने असरदार नहीं होते। योग से शरीर की आंतरिक ताकत बढ़ती है। इससे व्यक्ति का संपूर्ण स्वास्थ्य सुधरता है। यहीं वजह है कि योग यौनशक्ति में भी वृद्धि करता है। 
आमतौर पर लोग मानते हैं कि योगा सिर्फ आप को लचीला बनाता है, लेकिन सही ढंग से योगा करने पर आप बेहतर कामोत्जना भी महसूस करेंगे। 
FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन
काऊ की तरह तनना: 
इस एक्सरसाइज को करने के लिए पैर और हाथ के सहारे जमीन पर टिका दीजिए, आपका पूरा शरीर सीधा होना चाहिए।  

FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन
चाइल्ड आसन : इस योगा पोज को करने से तनाव भी समाप्त होता है। इस पोज के लिए सबसे पहले घुटनों के बल झुक जाइए, दोनों पैरों की उंगलियां एक-दूसरे को छूएं। उसके बाद फर्श पर अपने माथे को रखिए, इस बीच आपके दोनों हाथ सिर के दोनों साइड में हों।

FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन

चेयर पोज: इस मुद्रा को करने के लिए सबसे पहले दोनों पैरों को सीधा कर के खड़े हो जाइए। अपने दोनों हाथों को सिर के ऊपर उठा लीजिए। दोनों हाथों की हथेलियां एक-दूसरे से चिपकी हुई होनी चाहिए।
FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन

तितली आसन : तितली आसन में दोनों पैरों को सामने की ओर फैला लें. दोनों पैरों को घुटनों से मोड़ें और दोनों तलवों को आपस में मिला लें।
इस स्थिति में हाथों से पैरों की अंगुलियों को उसके पास से पकड़ें और एड़ी को ज़्यादा से ज़्यादा शरीर के क़रीब लाने का प्रयास करें।

FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन

कोबरा मुद्रा: भुजंग आसन, इसे कोबरा पोज भी कहते हैं। इससे ना केवल बैक पेन सही होता है, बल्कि मोटापा भी कम होता है। यह आसन शरीर को लचीला और फुर्तीला बनाये रखने में सक्षम होता है। ज़मीन पर उलटा लेट जाएं। पैर और हिप्स को समान रूप से फैलाकर रखें। हथेलियों को ज़मीन पर कंधों के सामने रखें। उंगलियों को बाहर की ओर फैलाएं, मध्यमा उंगली बीच में होनी चाहिए। सांस छोड़ते हुए पेड़ु को बाहर की ओर दबाएं।
FOR BETTER: बेहतर सेक्स के लिए ये हैं 6 योगा पोजिशन
नोज पोज:

sabhar : bhaskar.com



Read more

घड़ी जो समय बताने के साथ तस्वीर भी खींचेगी

0

घड़ी जो समय बताने के साथ तस्वीर भी खींचेगी

सियोल: नए-नए इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ चलन से हटती जा रही घड़ी ने अपने वजूद को बचाए रखने के लिए इन्हीं उपकरणों के साथ मेल-मिलाप कर एक नया अवतार ले लिया है। ये है घड़ी जैसी दिखने वाली गैलेक्सी गीयर, जिसे आप घड़ी की तरह कलाई में पहन सकते हैं। समय देख सकते हैं और जरूरत पड़ने पर मोबाइल की तरह इसका उपयोग करते हुए किसी को फोन कर सकते हैं या एसएमएस भेज सकते हैं। मुताबिक सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स ने गुरुवार को बर्लिन ट्रेड शो में इस गैलेक्सी गीयर को पेश किया।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि गैलेक्सी गीयर स्मार्ट घड़ी बर्लिन के आईएफए उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स मेले में 11 सितंबर तक अवलोकन के लिए लगी रहेगी। इसके माध्यम से कंपनी के फैबलेट गैलेक्सी नोट-3 के अत्याधुनिक संस्करण का उपयोग किया जा सकता है।

स्मार्ट घड़ी को आवाज से नियंत्रित किया जा सकेगा। कंपनी ने कहा कि यदि आप किसी दुकान से दोनों हाथों में सामान लेकर निकल रहे हों, तो भी बिना स्क्रीन छुए, सिर्फ आवाज के माध्यम से किसी को फोन या एसएमएस कर सकते हैं। sabhar : http://zeenews.india.com

गैलेक्सी गीयर में 1.9 मेगापिक्सल कैमरा है, जिसके माध्यम से फोटो लिया जा सकता है या वीडियो शूट किया जा सकता है और गैलेक्सी नोट-3 में ब्लूटुथ के जरिए भेजा जा सकता है। (एजेंसी)

Read more

600 कालगर्ल थीं इस 'इच्छाधारी' के सेक्स रैकेट में!

0



नई दिल्ली। आईबीएन7 की खास पेशकश ‘विवादों वाले बाबा’ में हम बता रहे हैं विवादों में घिरे बाबाओं और स्वामी की कहानियां। इन्हीं में एक नाम स्वामी भीमानंद का भी शामिल है जो सेक्स रैकेट के धंधे में पहले से लिप्त था और बाबा बनने का ढोंग बाद में रचा था। पैसे ब्याज पर देने के धंधे से भीमानंद ने कई सौ करोड़ रुपए की जायदाद और काला खजाना जुटाया। सांप का साथ होना स्वामी भीमानंद की पहचान बन गया।
भीमानंद भगवा चोला ओढ़कर दुनिया को अच्छा बनने का प्रवचन देता था। जब ये गेरुआ वस्त्र पहन कर प्रवचन देता था तो इसका नाम होता था- इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद महाराज चित्रकूटवाले। लेकिन सांप वाला ये इच्छाधारी बाबा रात ढलते ही अपने असली रूप में आ जाता था। गेरुआ वस्त्र उतर जाता था, पैरों पर टाइट जींस, जिस्म पर नए फैशन की टीशर्ट। हाथों में मोबाइल और महंगी कार से रात के अंधेरे में जिस्म के धंधे का संचालन।
सेक्स रैकेट की काली दुनिया में इच्छाधारी कई नाम से बदनाम था। राजीव रंजन द्विवेदी इसका एक नाम था, शिवमूरत द्विवेदी दूसरा। इच्छाधारी संत भीमानंद का ये चेहरा कभी सामने न आ पाता अगर दिल्ली पुलिस की चौकसी की वजह से वो पकड़ा न जाता।
तारीख- 26 फरवरी 2010
दक्षिण दिल्ली में दिल्ली पुलिस की टीम ने जाल बिछाकर दो कारों को रोका। इसके साथ ही एक हाईप्रोफाइल रैकेट का भांडाफोड़ किया। आठ लोग पकड़े गए। इनमें छह लड़कियां भी थीं। दो लड़कियां एयरहोस्टेस थीं। जिसमें से एक यूरोपियन एयरलाइंस में तो दूसरी एक भारतीय एयरलाइंस में काम करती थी। पुलिस ने जिन दो दलालों को पकड़ा उन्हीं में से एक था शिवमूरत द्विवेदी। शिवमूरत का रिकॉर्ड खंगालना शुरू किया तो पुलिस भी ये जानकर चौंक गई कि वो कोई और नहीं बल्कि बदरपुर में साधू के तौर पर मशहूर इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद था।
इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद की गिरफ्तारी की खबर दिल्ली के खानपुर के लोगों के लिए भी चौंकाने वाली रही। आम श्रद्धालु यकीन ही नहीं कर सके कि सात्विक जीवन का पालन करने की सीख देने वाले गेरुआ वस्त्र धारी जिस शख्स को वो साधु समझते थे, वो शैतान निकला। दिल्ली ही नहीं देश में सेक्स रैकेट का सबसे बड़ा दलाल निकला।
अपने आश्रम की आड़ में भीमानंद सेक्स रैकेट चलाता था। उसके नेटवर्क में करीब 600 हाई प्रोफाइल लड़कियां शामिल थीं, जिनमें कॉलेज गर्ल, मॉडल, एयरहोस्टेस, एक्जक्यूटिव हर तरह के पेशे से जुड़ी कॉलगर्ल थीं। पुलिस को भीमानंद के ठिकाने से उसकी 6 लाल डायरियां भी मिलीं। इन डायरियों में देश के 100 हाईप्रोफाइल लोगों के नाम दर्ज थे। इनमें कई सांसद, नेता, पुलिसवाले, बिजनेसमैन और बड़ी हैसियत वाले सफेदपोश लोग थे। इच्छाधारी संत भीमानंद के सेक्स रैकेट का लंबा-चौड़ा नेटवर्क देखकर पुलिस भी हैरान रह गई।
दिल्ली पुलिस ने भीमानंद पर संगठित अपराध के खिलाफ बने सख्त कानून मकोका के तहत मामला दर्ज किया। उसकी गिरफ्तारी के करीब 6 महीने बाद पुलिस ने भीमानंद के खिलाफ अदालत में 1215 पन्नों की चार्चशीट दायर की। मामला अदालत में है लेकिन सवाल ये भी है कि भीमानंद के हाईप्रोफाइल ग्राहकों तक कानून के लंबे हाथ क्यों नहीं पहुंचे।
मोटे तौर पर माना जाता है कि जिस्मफरोशी के धंधे, धर्म को कारोबार में बदलकर किए गए धंधे और पैसे ब्याज पर देने के धंधे से भीमानंद ने कई सौ करोड़ रुपए की जायदाद और काला खजाना जुटाया।
तहखाने में था सेक्स के धंधे का हेडक्वार्टर
शिवमूरत द्विवेदी उर्फ इच्छाधारी संत भीमानंद ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है। लेकिन जिस्मफरोशी के धंधे में कूदने के बाद उसने किसी प्रशिक्षित मैनेजर की तरह क्लाइंट और लड़कियों का नेटवर्क तैयार किया। धंधा चलाने के लिए उसने स्पेशल ऑपरेशन प्रोसीजर की तरह तय तौर-तरीके बनाए। इस धंधे का संचालन वो उस आश्रम से करता था, जहां बने तहखाने में था सेक्स के धंधे का हेडक्वार्टर।
मोहम्मदपुर और हुमायूंपुर में भी आश्रम की आड़ में जिस्म का बाजार चल रहा था। शिवमूरत द्विवेदी उर्फ इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद का मंदिर बिल्कुल अलग था। यहां एक गुफानूमा पोशीदा रास्ता था। रास्ता, तहखानेनुमा अंधेरे कमरे में जा कर खत्म होता था। देह के धंधे के इस पाताललोक में आकर अच्छे घरों की पढ़ी-लिखी लड़कियां रास्ता भूल जाती थीं। वो इच्छाधारी संत की इच्छा की गुलाम बन जाती थीं।
करीब तीन साल पहले भी आईबीएन7 के संवाददाता अमित पांडेय शिवमूरत द्विवेदी उर्फ इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद के गुप्त ठिकाने पर पहुंचे थे। वहां गुफा, खुफिया निगाह रखने के लिए बने झरोखों को देखकर ये समझने में परेशानी नहीं हुई कि मंदिर में ये सारे बदलाव क्यों किए गए। भीमानंद मंदिर की आड़ में सेक्स रैकेट का हेडक्वार्टर चला रहा था।
ये मंदिर दरअसल दो मंजिल की एक इमारत थी। ग्राउंड फ्लोर पर मंदिर बना था। फर्स्ट फ्लोर पर सेक्स रैकेट का कंट्रोल रूम। यहां एक झरोखा भी था। इस झरोखे से भीमानंद मंदिर में आने-जाने वाले लोगों पर निगाह रखता था। ढोंगी बाबा की मायावी दुनिया में 14 सीसीटीवी कैमरे भी लगे हुए थे। पहली मंजिल में झरोखे के बाद शुरू हो जाती थी वो गुफा जिसके जरिए इच्छाधारी के तहखाने तक पहुंचने का रास्ता था। वो करीब 20 मीटर लंबा था।
इसी गुफा के पीछे एक छोटा कमरा था। इसी छोटे से कमरे में इच्छाधारी के राज छुपे थे। इसी कमरे में ही हाई प्रोफाइल कॉलगर्ल से लेकर बड़े-बड़े दलाल तक जुटते थे। इसी पाताललोक से वो लाल डायरियां मिली थीं जिससे शिवमूरत द्विवेदी उर्फ इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद के जिस्म के धंधे के सारे राज खुल गए। राज खुले तो वो भक्त भी हैरान रह गए जो लगभग रोजाना मंदिर आते थे। भीमानंद का प्रवचन सुनते थे। भीमानंद यहीं उन्हें प्रवचन सुनाता था।
मंदिर की आड़ में भीमानंद के प्रवचन का खेल लंबे वक्त तक चला। बाद में ये मालूम चला कि भीमानंद दक्षिण दिल्ली के तीन इलाकों आर के पुरम, मोहम्मदपुर और हुमायूंपुर में भी आश्रम की आड़ में जिस्म का बाजार चल रहा था।
अमेरिका तक फैला कमाई का नेटवर्क!
इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद एक आश्रम से सेक्स रैकेट का नेटवर्क चलाता था। लेकिन उसके तार सात समंदर पार दुनिया में जुए के सबसे बड़े शहर लास वेगास तक जुड़े हुए थे। यही नहीं जांच के दौरान पुलिस को ये भी पता चला कि इच्छाधारी सिर्फ सेक्स रैकेट से ही कमाई नहीं कर रहा था। उस पर हवाला नेटवर्क से जुड़े होने का शक भी था। इन मामलों में सजा पाने से बचना अब इच्छाधारी के लिए लगभग नामुमकिन हो गया है। हैरानी की बात है कि उसके धंधे में साथी रहे ज्यादातर लोग कानून के शिकंजे से आजाद ही रहे।
धार्मिक समारोह में डांस परोसना और भक्तों की भीड़ जुटाना। उसके पाखंड का एक और चेहरा था। नृत्य कार्यक्रम में आखिर में इच्छाधारी पटाखे की लंबी लड़ी में आग कर पाखंड का डांस करता था। जैसे-जैसे पटाखें की लड़ी जलती जाती- ढोल- नगाड़े की आवाज के साथ बाबा के बदन की थिरकन बढ़ती जाती।
धार्मिक समारोहों में डांस परोसने का बाबा भीमानंद का मकसद पैसा कमाना होता था, क्योंकि भीमानंद अच्छी तरह से जानता था कि सिर्फ साईं के नाम के प्रवचन से ही वो पैसे नहीं कमा सकता। इस पाखंडी की पैसे कमाने की भूख इतनी ज्यादा थी कि वो ब्याज पर पैसे देने से लेकर, कई तरह के ऐसे धंधे में मशगूल था। जिससे उसे करोड़ों की कमाई होती थी।
सेक्स रैकेट से इच्छाधारी की कमाई
हालांकि बाबा भीमानंद के कई तरह के धंधे थे लेकिन उसकी कमाई का सबसे बड़ा जरिया सेक्स रैकेट ही था। उसके मोबाइल नंबर का एक साल का बिल था 5 लाख 21 हजार 744 रुपये। चार्जशीट के मुताबिक इस पाखंडी के फोन से एक दिन में 5-5 सौ काल्स इन और आउटगोईंग थी। समझा जा सकता है कि उसके धंधे की कमाई कितनी थी।
2010 में इच्छाधारी के अड्डे से काले रंग की एक डायरी भी मिली। डायरी में दुनिया में जुए के सबसे बड़े शहर अमेरिका के लास-वेगास से हो रही कमाई का सुराग था। इसके एक पन्ने पर ढाई हजार करोड़ रुपए की इंट्री थी। साथ में लिखा था 5 पर्सेंट। अगले पन्ने में ये रकम घट कर 125 करोड़ रुपए हो गई। लेकिन उसके सामने आईएन दर्ज था। यानी ये रकम बाबा को मिल चुकी थी। अगले पन्ने पर कोलकाता की एक संस्था और अमेरिका का लास वेगास शहर का नाम था। लिहाजा हवाला नेटवर्क का शक हुआ। पुलिस का मानना है कि भीमानंद हवाला नेटवर्क के जरिए कालेधन को सफेद करने के धंधे में भी डूबा था।
भीमानंद पर सभी मामले दिल्ली की साकेत कोर्ट में चल रहे हैं, पुलिस के 60 गवाहों में से 35 लोगों की गवाही हो चुकी है। मकोका के तहत चल रहे केस में भीमानंद के साथ उसका साथी प्रवीण भी आरोपी है। कानूनी जानकारों का मानना है कि केस इतना पुख्ता है कि भीमानंद का बचना मुश्किल है।
मुकद्दमें में भीमानंद के दो पासपोर्ट के बारे में भी सबूत रखे गए हैं। दिल्ली से कोलकाता, कोलकाता से लासवेगास तक फैले जिस्मफरोशी के धंधे को चमकाने के लिए ही भीमानंद ने दो पासपोर्ट भी बनवाए थे। पहला पासपोर्ट H 3782510 है। ये 23 फरवरी 2009 को दिल्ली से जारी हुआ था। 22 फरवरी 2019 तक वैध पासपोर्ट को बाबा ने कैंसिल करा दिया था। दूसरा पासपोर्ट उसने सरस्वती स्वामी बाबा भीमानंद के नाम से 13 जनवरी 2010 को जारी करवाया।
हैरानी की बात है कि पासपोर्ट के लिए होने वाली पुलिस की बैकग्राउंड जांच में भी भीमानंद आसानी से बच निकला था। पुलिस को सफाई देनी मुश्किल हो गई थी। बाबा की डायरी के मुताबिक उसने 17 लाख रुपये पांच फीसदी महीने के ब्याज पर लोगों को उधार भी दिया था, हालांकि हैरानी की बात है कि उसके धंधे में साथी रहे ज्यादातर लोग कानून के शिकंजे से आजाद ही रहे।
नेटवर्क में थीं 600 कॉलगर्ल्स
इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद जब पकड़ा गया तब उसके नेटवर्क में करीब 600 कॉलगर्ल्स थीं, ज्यादातर लड़कियां पढ़ी-लिखी थीं और अच्छे परिवारों से आती थीं। लिहाजा ये एक पहेली ही है कि इच्छाधारी संत उन्हें अपने जाल में फंसाने में कामयाब कैसे हो जाता था। सवाल ये भी है कि क्या उसने कुछ लड़कियों को इस धंधे में शामिल होने के लिए मजबूर भी किया था। शक है कि भीमानंद ने उस लड़की का भी इस्तेमाल किया या फिर उसे ब्लैकमेल किया।
नामी एयरलाइंस में काम करने वाली एयरहोस्टेस, दिल्ली के प्रतिष्ठित कॉलेजों में पढ़ने वाली लड़कियां, महीने में लाखों रुपये कमानें वाली मॉडल्स, यानी जिन्हें पैसे की जरूरत नहीं थी, जिन्हें आसानी से सेक्स रैकेट में शामिल होने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता था, वो भी शिव मूरत द्विवेदी उर्फ इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद के सेक्स रैकेट में शामिल थीं। पूछताछ में इच्छाधारी ने बताया था कि ज्यादातर लड़कियां उसके धंधे में अपनी मजबूरी से आईं। लेकिन शक ये भी है कि कुछ लड़कियां जोर-जबरस्ती इस धंधे में धकेल दी गईं।
लड़कियों को जोर-जबरदस्ती से सेक्स रैकेट में धकेलने का इच्छाधारी बाबा शक तब हुआ जब जयपुर पुलिस शिव मूरत द्विवेदी की तलाश करते दिल्ली पहुंची। पुलिस के साथ एक नौजवान था। जिसकी बहन लापता हो गई थी। उसके मोबाइल फोन के कॉल रिकॉर्ड से पता चला था कि वो शिव मूरत द्विवेदी के संपर्क में थी। लड़की का परिवार खानपुर के आश्रम में संत के रूप में मौजूद इच्छाधारी से मिला भी था। उसने वादा किया था कि लड़की 15 दिन में जयपुर पहुंच जाएगी। लेकिन वो कभी नहीं लौटी।
इच्छाधारी बाबा ने सिर्फ जयपुर लड़की को ही धोखा नहीं दिया था, बल्कि जांच के दौरान पुलिस को उसके पास से उसकी माशूका की चिट्ठी भी मिली थी। इस चिट्ठी से साफ था कि पैसा कमाने की हवस में इच्छाधारी बाबा ने अपनी प्रेमिका को भी धोखा दे दिया था।
इच्छाधारी बाबा के पास से उसकी माशूका जो लव लेटर मिला उसे नोएडा की एक लड़की ने लिखा था। लवलेटर की इबारत से साफ है कि इस ढोंगी ने अपनी दोस्त से भी दगाबाजी की। चिट्ठी में उसने लिखा था मैं हार गई, वाकई आपने मुझे हरा दिया, मुझे अपनी जिंदगी कहने वाले आप मुझे छोड़कर बहुत आगे निकल गए। आज आपके लिए पैसा ही सब कुछ है। तुम्हें ना लगे, पर मुझे लगता है कि हम एक दूसरे से बहुत दूर हो गए।
भीमानंद की माशूका को तलाशने की पुलिस की हर कोशिश नाकाम हो गई। शक है कि भीमानंद ने उस लड़की का भी इस्तेमाल किया या फिर उसे ब्लैकमेल किया। sabhar :http://hindi.in.com

Read more

फैंस से जुड़ने के लिए कंगना ने लॉन्च की वेबसाइट

0


मुंबई। बॉलीवुड की जानीमानी अभिनेत्री कंगना राणावत ने अपने प्रशंसकों से जुड़ने के लिए अपनी वेबसाइट लॉन्च किया है। कंगना राणावत ने कह कि मैं जिस तरह के पेशे मे हूं उसको देखते हुए अपने प्रशंसकों से बातचीत करना मेरे लिए बेहद महत्वपूर्ण था। मैं काफी दिन से इस बारे में सोच रही थी। मैं इस वेबसाइट के जरिये अपने सभी चाहने वालों से जुड़ना चाहती हूं और अपने काम के बारे में उन्हें बताना चाहती हूं।
कंगना ने कहा कि पहले मैं बिजी रहने के कारण ऐसा नहीं कर सकी थी, लेकिन अब मैं पूरी दुनिया में अपने वेबसाइट के जरिए प्रशंसकों से जुड़ सकती हूं। कंगना के वेबसाइट ऑफिसियलकंगनारणावत डॉटकॉम से उनके चाहने वाले उनसे जुड़ सकेंगे। sabhar : http://khabar.ibnlive.in.com

Read more

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting