शनिवार, 30 नवंबर 2013

भारतवंशी सत्या नडेला करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!

0

हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!

 माइक्रोसॉफ्ट के मौजूदा सीईओ स्टीव बॉल्मर रिटायर होना चाहते हैं।माइक्रोसॉफ्ट के मौजूदा सीईओ स्टीव बॉल्मर ने दो माह पहले कहा था कि वे 2014 में पद छोड़ देंगे। कंपनी एक साल के भीतर नया सीईओ अपॉइंट कर ले। इसलिए माइक्रोसॉफ्ट की सर्च कमेटी नए सीईओ की तलाश में है। कमेटी दुनिया भर में अलग अलग सेक्टर्स के सीईओ के संपर्क में है। माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ के पद की दौड़ में भारतवंशी सत्या नडेला आगे चल रहे हैं। फोर्ड मोटर कंपनी के सीईओ एलन मुलाली का नाम भी चर्चा में है। शुक्रवार को ब्लूमबर्ग ने इस संबंध में नंबंरिंग जारी की। ब्लूमबर्ग के मुताबिक कंपनी इन दोनों के नाम पर प्रमुखता से विचार कर रही है सत्या नादेला माइक्रोसॉफ्ट में 21 सालों से कार्यरत शीर्ष पदस्थ भारतवंशी हैं । कंपनी के क्लाउड और एंटरप्राइज समूह के लीडर हैं । इनकी टीम ऑनलाइन/मोबाइल कंप्यूटिंग के क्षेत्र में संघर्ष कर रही है।सत्य नाडेला की उम्मीदवारी की बात इसलिए भी हो रही है कि उन्हें बिजनेस क्लाइंट के साथ डीलिंग का पुराना अनुभव है। एक और गौर करने की बात है कि यही वो शख्स हैं जो कंपनी की आय में सबसे बड़ी भूमिका निभाते हैं। इन्हीं की बदौलत कंपनी को सबसे ज्यादा पैसा मिलता है। फोर्ड मोटो कॉर्प के को-चीफ एलन मुलाली (68) के नेतृत्व में कंपनी घाटे से उभरकर आज फायदे में है। एलन ने 2006 में जॉइन किया था। हालांकि 2014 तक उनका कंपनी से एग्रीमेंट हुआ है लेकिन वे पद छोड़ सकते हैं। 

 हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!
हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!
फोर्ड के एलन मुलाली के अलावा कंप्यूटर साइंसेज कॉर्पोरेशन के सीईओ माइक लॉरी भी दावेदारी में नंबर वन पर हैं।

हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!

नोकिया के पूर्व सीईओ स्टीफन एलोप
 2010 में नोकिया में जाने से पहले स्टीफन एलोप माइक्रोसॉफ्ट के बिजनेस डेवलपमेंट विंग का काम देखते थे


स्काइप के सीईओ टोनी बेट्स
 हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!
माइक्रोसॉफ्ट की मैसेजिंग सर्विस स्काइप के सीईओ टोनी बेट्स का नाम भी रेस में शामिल लोगों में है। बेट्स के पास अब माइक्रोसॉफ्ट के बिनजेस डेवलपमेंट विंग का कार्यभार है। बेट्स ने 2011 में ही स्काइप के सीईओ का कार्यभार संभाला था। 
हैदराबाद का ये लड़का करेगा दुनिया पर राज, बनेगा 8800 अरब का 'मालिक'!

क्यों पिछड़ी माइक्रोसॉफ्ट 
 
बीते माह वॉल स्ट्रीट की रिपेार्ट में बताया गया था कि माइक्रोसॉफ्ट अब भी फायदे में है। लेकिन मोबाइल फोन कंपनी एप्पल और सैंमसंग ने माइक्रोसॉफ्ट को बिजनेस के मामले में काफी पीछे धकेल दिया है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि पीसी की बजाय अब लोग एप्पल और सैमसंग के स्मार्टफोन खरीदना पंसद कर रहे हैं। वहीं टैबलेट ने तो पीसी की मार्केट को पूरी तह से खत्म ही कर दिया है। sabhar : bhaskar.com


0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting