Loading...

शुक्रवार, 4 अक्तूबर 2013

यह दुर्लभ बीमारी इंसान को बना देती है जीवित बुत

0

Fibrodysplasia Ossificans Progressiva

लंदन। ऐसी दुर्लभ बीमारी के बारे में शायद ही आपने पढ़ा या सुना होगा जिसमें शरीर की मांसपेशियां धीरे-धीरे हड्डियों में तब्दील हो जाती हैं। यानी शरीर का वह हिस्सा पूरी तरह से गतिहीन हो जाता है या यूं कहें कि इंसान एक जीवित बुत में बदल जाता है।
इस लाइलाज और दुर्लभ बीमारी को फाइब्रोडिसप्लेसिया ओस्सिफिकांस प्रोग्रेसिव (एफओपी) या 'स्टोन मैन सिंड्रोम' के नाम से जाना जाता है। पूरी दुनिया में इससे सात सौ लोग पीड़ित हैं जिसमें से एक 31 वर्षीय एशले कुर्पिएल हैं। इस असाध्य बीमारी के कारण उनका एक पैर इसकी चपेट में आ चुका है। इसके बावजूद वह निराश नहीं हैं। वह तमाम तकलीफ और कठिनाइयों के बावजूद काफी जिंदादिल हैं। एशले का मानना है कि जब तक वह चलने फिरने में सक्षम हैं तब तक जिंदगी का पूरा लुत्फ उठाया जाए। अपनी इसी जिजीविषा के चलते वह अपना हर शौक पूरा करने के लिए हर समय उत्साहित रहती हैं। वह अपने मेकअप पर ही लाखों रुपये खर्च करती हैं। नवंबर में कैरेबियन क्रूज पर अपने दोस्तों के साथ सैर की भी योजना बना रखी हैं। एशले खुद को भाग्यशाली मानती हैं कि उनके जबड़े इससे बचे हुए हैं क्योंकि उस स्थिति में मुंह की गतिविधि भी स्थिर हो जाती है। ब्रिटेन के एसेक्स में जन्मी एशले जब तीन वर्ष की थी उस समय डॉक्टरों ने भूलवश समझा कि उनके दाहिनी हाथ में कैंसर है जिसके बाद उसे काट दिया गया। इस बीमारी के लक्षण उनमें किशोरावस्था में दिखने शुरू हुए थे। उन्होंने 2002 में शादी भी की, लेकिन तीन साल बाद टूट गई। अपनी इस बीमारी के प्रति जागरुकता फैलाने की ख्वाहिशमंद एशले 2007 में तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा से भी मिल चुकी हैं। sabhar : jagaran.com

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting