Loading...

शनिवार, 5 अक्तूबर 2013

मधुमेह रोगियों के लिए मददगार साबित होगा कृत्रिम पंप

0

मधुमेह रोगियों के लिए मददगार साबित होगा कृत्रिम पंप

सिडनी: ऑस्ट्रेलियाई चिकित्सकों ने मधुमेह-टाइप वन के रोगियों के लिए जोखिम और कोमा से बचने के लिए एक पंप तैयार किया है। ऑस्ट्रेलिया के पर्थ में प्रिंसेज मार्गरेट हॉस्पिटल फॉर चिल्ड्रेन में इंडोक्रिनॉलॉजी विभाग के प्रमुख टिम जॉन्स और उनके दल ने आग्नाशय जैसा एक कृत्रिम पंप बनाया है, जो मधुमेह रोगियों में इंसुलिन पहुंचाता है और उसे रोकता है।

नया उपकरण रोगियों में घातक कोमा की पहचान कर सकता है और रक्त में सुगर का स्तर कम हो जाने पर इंसुलिन की आपूर्ति को रोकता है। जॉन्स ने बताया कि कुछ रोगी दिल की धड़कनें तेज होने और रक्त में ग्लूकोज की बूंदों के रूप में अस्थिरता जैसे लक्षण देखेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि अन्य लोगों को कोई चेतावनी संकेत नहीं मिलता है। इस तकनीक पर फिर भी ज्यादा भरोसा है। 
जॉन्स ने बताया कि नया पंप रोगियों को हाइपोग्लाइसीमिया और रक्त में कम ग्लूकोज से बचाएगा। (एजेंसी)

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting