गुरुवार, 26 सितंबर 2013

ऐसे ही अमेरिका से आगे नहीं निकला चीन, देखें कैसे उगा दी मरीज के माथे पर नाक

ऐसे ही अमेरिका से आगे नहीं निकला चीन, देखें कैसे उगा दी मरीज के माथे पर नाक

बीजिंग। कृत्रिम अंग विकसित करने के बारे में आपने सुना और पढ़ा तो बहुत होगा। अगर देखा नहीं है तो यहां देख लीजिए। चीन के फुजियान प्रांत में डॉक्टरों ने एक व्यक्ति के माथे पर नाक उगाई है। दरअसल 22 वर्षीय जाओलिन का 2012 में एक्सीडेंट हो गया था। जिससे उससे नाक में बहुत गहरी चोट आई।
इन्फेक्शन बढ़ता चला गया और नाक काटने की नौबत आ गई। तब डॉक्टरों ने स्टेम सेल तकनीक नई नाक विकसित करने की सोची। और इसके लिए उन्होंने जाओलिन का माथा चुना।

क्या है इसके पीछे का विज्ञान
डॉक्टर्स ने त्वचा के ऊत्तकों (स्किन टिशू) को जाओलिन के माथे पर प्लांट किया। इसे डॉक्टर्स ने नाक की शेप में काटा और बीच में कार्टिलेज (नरम हड्डी) लगा दी। यह हड्डी जाओलिन के शरीर से निकाली गई पसली (रिब) की है।
डॉक्टर्स अब जाओलिन के इन्फेक्टड नाक को हटाकर इसे ट्रांसप्लांट करने की तैयारी में हैं। डॉक्टरों का कहना है कि नई नाक अच्छी शेप में है और जल्द इसे ट्रांस्प्लांट करने के लिए सर्जरी की जाएगी।
चीन का नया कारनामा, मरीज के माथे पर उगा दी नकली नाक, देखें तस्वीरें

(तस्वीर - फुजोहू के एक अस्पताल में जाओलिन की संक्रमित और विकृत नाक का निरीक्षण करते डॉक्टर। )
चीन का नया कारनामा, मरीज के माथे पर उगा दी नकली नाक, देखें तस्वीरें

(तस्वीर - जोओलिन के माथे पर नई नाक विकसित की गई है। इसे पुरानी नाक की जगह ट्रांसप्लांट किया जाएगा।) sabhar : bhaskar.com

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कोरोनावायरस / महामारी से लड़ने में रोबोट्स की मदद लेगा भारत, यह संक्रमितों तक खाना-दवा पहुंचाएंगे, टेम्परेचर और सैंपल लेने का काम भी करेंगे

दैनिक भास्कर Apr 06, 2020, 02:05 PM IST नई दिल्ली..  कोरोना से लड़ने के लिए चीन समेत दुनियाभर के कई देश रोबोट्स की मदद ले रहे हैं। यह ...