Loading...

रविवार, 1 सितंबर 2013

वैलेंटाइन डे को सेक्‍स का 'बहाना' और होली-दीवाली पर रिश्ता बनाने को तबाही मानते हैं आसाराम

0

वैलेंटाइन डे को सेक्‍स का 'बहाना' और होली-दीवाली पर रिश्ता बनाने को तबाही मानते हैं आसाराम


नई दिल्ली. विवादास्पद कथावाचक आशूमल सिरूमलानी उर्फ आसाराम बापू इनदिनों गलत वजहों से सुर्खियों में हैं। उन पर अपने ही आश्रम में एक नाबालिग लड़की के यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। आसाराम बापू का मामला अब विदेशी मीडिया की सुर्खियां भी बन रहा है।  (बेहद शर्मनाक है आसाराम पर केस करने वाली लड़की की एफआईआर में बताई गई कहानी)
 
अमेरिका के मशहूर न्यूज पोर्टल 'द न्यूयॉर्क टाइम्स' ने 'द एडवांटेजेस ऑफ बींग आसाराम बापू' शीर्षक से प्रकाशित आर्टिकल में आसाराम और उनकी कारस्तानियों के बारे में विस्तार से बताते हुए उनकी आलोचना की है। 

वैलेंटाइन डे को सेक्‍स का 'बहाना' और होली-दीवाली पर रिश्ता बनाने को तबाही मानते हैं आसाराम

प्यार के बहाने गंदगी हरकतें कर खाली हो जाते हैं 
 
'छोरा छोरी को फूल दे, बोले मैं तुमसे प्यार करता हूं; छोरी छोरे को फूल दे, बोले मैं तुमसे प्यार करती हूं। सत्यानाश हो जाता है। प्यार के बहाने गंदी हरकतें कर के खाली हो जाते हैं।' 
होली और दीवाली पर सेक्स करोगे, तबाह हो जाओगे 
 
आसाराम अपने सत्संगों में शादीशुदा जोड़ों को होली और दीवाली पर सेक्स न करने की सलाह देते हैं। आसाराम कहते हैं कि ऐसा करने पर जीवन भर की बीमारियां यहां तक कि मानसिक और शारीरिक तौर पर अपंग होने का खतरा है। आसाराम ने इसका नतीजा इन शब्दों में बयां किया था, 'तबाही, तबाही, तबाही।'   sabhar : bhaskar.com

 

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting