Loading...

सोमवार, 2 सितंबर 2013

मंगल ग्रह पर बसने की बुकिंग का आखिरी दिन कल, 8000 भारतीय कर चुके सीट बुक

0



नई दिल्ली. मंगल ग्रह पर हमेशा के लिए बसने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है और इस होड़ में भारत के लोग भी पीछे नहीं है. अब तक 8000 से ज्यादा भारतीय लोगों ने मंगल ग्रह पर बसने के लिए अपनी सीट पक्की करा ली है. पंजीकरण की तिथि नजदीक आने के साथ ही अबतक 8000 से अधिक भारतीयों ने मंगलग्रह की यात्रा करने और वहीं बस जाने के लिए हस्ताक्षर किए हैं.
दरअसल मार्स वन परियोजना के तहत वहां अगले 10 साल में एक कॉलोनी बसाने की योजना है. गैर लाभकारी संगठन मार्स वन वर्ष 2023 तक मंगलग्रह पर स्थायी मानव बस्ती बनाना चाहता है और इसमें जिन लोगों की दिलचस्पी है, वे पंजीकरण करा रहे हैं. भारत 27 अगस्त को 8107 आवेदकों के साथ दुनिया में विभिन्न देशों के बीच चौथे स्थान पर था. इसके पंजीकरण की अंतिम तिथि 31 अगस्त है और मार्स वन को 1 लाख 65 हज़ार लोगों के आवेदन मिल गए हैं जो मंगल पर बसने वाले पहले मानव बनने की आस लगाए हैं.
मंगल ग्रह पर हमेशा से बसने वाले 8000 से अधिक आवेदनों के साथ ही भारत  दुनिया का चौथा ऐसा देश बनकर सामने आया है जिसके निवासी हमेशा के लिए मंगल पर बसने को तैयार हैं. इस सारणी में सबसे पहला स्थान अमेरिका का है जहां से 37,852 लोगों के अवेदन आए हैं. अमेरिका के बाद चीन की तरफ से सबसे अधिक 13,124 आवेदन प्राप्त किए गए है. तीसरे स्थान पर 8,686 आवेदनों के साथ ब्राजील और चौथे स्थान पर 8,107 के साथ भारत का नंबर आता है. sabhar :http://www.palpalindia.com 

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting