Loading...

रविवार, 13 मई 2012

जब प्यार चढ़ा परवान तो दुनिया के बंधन तोड़ बहनों ने की हदें पार

0



अम्बाला. पंद्रह दिन पहले घर से गायब हुई दो मौसेरी बहनों ने आपस में ही ब्याह रचा लिया। शनिवार को एक युवती के परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने दोनों को पकड़कर कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के आदेश पर दोनों को नारी निकेतन करनाल भेज दिया गया। दोनों युवतियां बालिग हैं।

अम्बाला कैंट की पूनम का पहनावा और हाव-भाव बचपन से ही लड़कों जैसा है। उसकी मौसेरी बहन नेहा जालंधर कैंट (पंजाब) की रहने वाली है। नेहा ने हाथों में सुहाग का चूड़ा पहना हुआ था और मांग भरी थी। एक साल में युवतियों के आपस में ब्याह करने का यह अम्बाला का दूसरा मामला है।

इससे पहले अम्बाला में कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर का काम करने वाली युवती और एक प्राइवेट स्कूल की टीचर ने डेढ़ साल के प्रेम प्रसंग के बाद मंदिर में शादी कर ली थी। उधर पूनम के माता बिमला देवी का कहना है कि बेटी बिना बताए घर से गई थी लेकिन कई दिनों के बाद वह घर नहीं लौटी तो उन्होंने रिश्तेदारों से संपर्क करना शुरू किया था। यह क्यों किया उसे समझ नहीं आ रहा है, वह रिश्तेदारों के साथ मिलकर उनको समझाने का प्रयास कर रहे हैं।


अम्बाला में यह दूसरा मामला

अम्बाला में  पिछले एक साल में दो युवतियों द्वारा आपस में ब्याह रचाने का यह दूसरा मामला है। पहले यहां कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का काम करने वाली युवती और एक प्राइवेट स्कूल की टीचर ने डेढ़ साल के प्रेम प्रसंग के बाद मंदिर में शादी कर ली थी। उसके बाद दोनों ने परिजनों से जान का खतरा बताते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर कर एक दूसरे के साथ रहने का हक माना था।


उनका तर्क था कि भारत के संविधान में सभी को अपने तरीके से जीने का हक दिया गया है। इस मामले में अभी तक हाईकोर्ट में कोई फैसला नहीं आया अलबत्ता कोर्ट ने एक वरिष्ठ वकील को कोर्ट मित्र बनाकर इस मामले में राय मांगी थी कि क्या दो लड़कियों आपस में विवाह कर सकती हैं।

 sabhar : bhaskar.com

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting