Loading...

शनिवार, 19 मई 2012

हॉस्टल के बाहर से उठाया और 24 घंटे तक करते रहे गैंग रेप, फिर फेंक दिया

0




सोनीपत.गोहाना .भक्त फूलसिंह महिला विश्वविद्यालय खानपुर कलां विधि विभाग की बीए एलएलबी की प्रथम वर्ष की एक छात्रा को मेस का संचालन कर रहे युवक ने अपने दो साथियों के साथ विश्वविद्यालय के सामने से जबरन उठा लिया। खेतों में ले जाकर उसके साथ बारी-बारी से मुंह काला किया। इसके बाद युवकों ने छात्रा को विश्वविद्यालय के सामने ही फेंक दिया।
गैंग रेप करने वाले तीन आरोपियों को हरियाणा पुलिस ने छात्राओं के दबाव के बाद रात को गिरफ्तार कर लिया। इनमें अमित मलिक और जयपाल शामिल है। तीनों आरोपियों को खानपुर गांव के समीप से गिरफ्तार किया गया है।
आरोप है कि इस मामले को दबाने की पूरी कोशिश की गई, लेकिन जब विवि की अन्य छात्राओं को इसका पता लगा तो उन्होंने इसका डटकर विरोध किया। वे हॉस्टल से बाहर आ गईं और धरना-प्रदर्शन शुरू कर रोड जाम कर दिया। इसके बाद अधिकारियों की नींद टूटी और सदर थाने में मामला दर्ज किया गया। छात्रा का खानपुर कलां स्थित बीपीएस महिला राजकीय अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया गया। धरने पर डटीं लड़कियों को हॉस्‍टल प्रशासन की ओर से खाना-पीना भी नहीं दिया जा रहा है
दिल्ली के होलंबी कलां की रहने वाली एक लड़की खानपुर कलां स्थित भक्त फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय के विधि विभाग में एलएलबी प्रथम वर्ष की छात्रा है।
विश्वविद्यालय के छात्रावास संख्या 14 में रहने वाली यह छात्रा 16 मई की दोपहर विश्वविद्यालय के गेट के बाहर किसी काम से आई थी। उसी दौरान स्कार्पियो गाड़ी में तीन युवक उसे जबरन बैठा ले गए।
युवक छात्रा को खेतों में ले गए। वहां पर तीनों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। बाद में विश्वविद्यालय के बाहर छोड़ दिया। बदहवास छात्रा वहां से छात्रावास में अपने कमरे में चली गई। 17 मई को उसने घटना की जानकारी अपनी सहयोगी छात्राओं को दी। घटना पूरे विश्वविद्यालय में आग की तरह फैल गई।
आरोप है कि जब मामले को दबाने की कोशिश की गई तो छात्राओं ने विरोध किया। इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रा का मेडिकल परीक्षण कराया। सदर थाना पुलिस ने छात्रा के बयान पर गांव खानपुर कलां निवासी व विवि में मैस का संचालन कर रहे अमित मलिक उर्फ मीता व दो अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

शुक्रवार सुबह छात्राओं ने विश्वविद्यालय में छात्राओं की सुरक्षा कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए विश्वविद्यालय के गेट के सामने गोहाना-गन्नौर मार्ग पर जाम लगा दिया।

छात्राओं के साथ है विश्वविद्यालय : वीसी

विश्वविद्यालय की कुलपति डा. पंकज मित्तल व रजिस्ट्रार डा. आशा कादियान ने कहा कि जिस छात्रा के साथ दुर्घटना हुई है विश्वविद्यालय प्रशासन उसके पूरी तरह से साथ है। उन्होंने कहा कि घटना का पता लगते ही इस संबंध में कमिश्नर, डीएसपी व अन्य अधिकारियों से बातचीत की गई। उन्होंने कहा कि मामला दर्ज हो चुका है और छात्रा का मेडिकल परीक्षण करवाया जा चुका है।

चीफ वार्डन को बदला

छात्राओं के कड़े रुख व आंदोलन को देखते हुए महिला विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा चीफ वार्डन से त्याग-पत्र ले लिया गया। विश्वविद्यालय के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार कृष्णा राठी को चीफ वार्डन नियुक्त किया गया है।
sabhar : bhaskar.com

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting