Loading...

मंगलवार, 3 अप्रैल 2012

इंजीनियरिंग के इस बेमिसाल कमाल को देख रह जाएंगे दंग!

0





अगर आप इस ब्रिज पर है और आपको उंचाई से डर लगता है तो बेहतर है कि आप नीचे न देखें।


चीन में एक घाटी के ऊपर बने पुल को आवागमन के लिए खोल दिया गया है।

पुल की जमीन से उंचाई 1102 फीट है।

पुल का नाम एज्हाई एक्स्ट्रा लार्ज सस्पेंशन ब्रिज रखा गया है। यह ब्रिज दुनिया का सबसे उंचा और सबसे लम्बा सुरंग से सुरंग पुल बन गया है।

इंजीनियरिंग की बेमिसाल उपलब्धि को दर्शाता इस पुल का काम अक्टूबर 2007 में शुरू हुआ था। हालांकि पुल का ज्यादातर काम पिछले साल के अंत में ही खत्म हुआ। पुल का निर्माण हुनान प्रान्त के जिशोऊ क्षेत्र में यातायात को कम करने के लिए किया गया है। शनिवार को इस पुल को आधिकारिक तौर पर खोला गया।

दो सुरंगों को जोड़ने वाला 3858 फीट लम्बे पुल से गुजरने के दौरान देहांग घाटी का नजारा लिया जा सकता है। चीन में घाटी को पार करने के लिए बनने वाला यह चौथा सस्पेंशन ब्रिज है। यह घाटी इतनी चौड़ी है कि ऐसा लगता है मानो यह दो पर्वत श्रंखलाओं को जोड़ रही हो।

रात में ब्रिज पर रौशनी के लिए 1888 लाइट्स जलाई जाती है। ब्रिज टू -वे (दो रास्ते) और चार लेन वाला मोटरमार्ग है। ब्रिज पर वाहनों की अधिकतम गति 50 मील प्रति घंटा निर्धारित की गई है। पैदल चलने वाले भी एक विशेष रास्ता पर चल सकते हैं। यह ब्रिज 64 किलोमीटर लम्बा जिशोऊ-चडोंग एक्सप्रेस वे का एक अहम् हिस्सा है। जिशोऊ-चडोंग एक्सप्रेस वे में 18 सुरंग हैं। ये सुरंग ही इस एक्सप्रेस वे के आधे रास्ते को कवर करते हैं।


उम्मीद की जा रही है कि ब्रिज के बनने से ट्राफिक जाम से निजात मिलेगी। पहाड़ी क्षेत्र में संकीर्ण,खड़ी और घुमावदार सड़कों होने के कारण ट्रैफिक जाम आम बात है। पुल की संरचना को 78 फीट चौड़े आधार द्वारा समर्थन दिया गया है।

गौरतलब है कि चीन में दुनिया का सबसे लम्बा दंयांग कुन्शन ग्रैंड ब्रिज है। यह पुल 100 मील से ज्यादा लम्बा है और दो साल पहले बन कर तैयार हुआ था। यह बीजिंग-शंघाई उच्च गति रेल को जोड़ता है।
sabhar : bhaskar.com
 
 
 
 

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting