Loading...

मंगलवार, 10 अप्रैल 2012

डेढ़ साल पहले कंपनी बनाई और 50 अरब में फेसबुक को बेच दी

0






नई दिल्‍ली. सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक ने एक अरब डॉलर यानी करीब 50 अरब रुपये में ‘इंस्टाग्राम’ नामक स्मार्टफोन ऐप्लिकेशन बनाने वाली कंपनी को खरीदने का ऐलान किया है। एक अरब डॉलर की यह राशि फेसबुक नकद और शेयर के रूप में देगी।



इंस्टाग्राम कंपनी का अधिग्रहण फेसबुक का अब तक का सबसे बड़ा सौदा बताया जा रहा है। यह अहम सौदा ऐसे समय में हुआ है जबकि फेसबुक कंपनी शेयर मार्केट में आने का अपना एक महीना पूरा कर रही है।  



इंस्टाग्राम कंपनी की शुरुआत अक्टूबर 2010 में हुई थी और तस्वीरों के आदान-प्रदान करने वाला इसका सॉफ्टवेयर शुरू से ही एप्‍पल के आई फोन के लिए इस्‍तेमाल में लाया जाता रहा है।



इंस्‍टाग्राम कंपनी शुरू करने वाले केविन सिस्‍ट्रोम और माइक क्रेगर की कहानी भी बेहद दिलचस्‍प है। कंपनी के सीईओ केविन ने स्‍टैनफर्ड यूनिवर्सिटी से 2006 में मैनेजमेंट साइंस एंड इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन किया। उन्‍होंने इंटर्न के तौर पर ओडियो में काम किया जो बाद में ट्विटर बना। केविन ने गूगल में महज दो साल नौकरी की। उनकी दिलचस्‍पी सोशल नेटवर्किंग साइटों और फोटोग्राफी में रही। इसी वजह से उन्‍होंने खुद की कंपनी इंस्‍टाग्राम शुरू की।



केविन के सहयोगी माइक भी स्‍टैनफर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं। उन्‍होंने माइक्रोसॉफ्ट की पावरप्‍वाइंट टीम में प्रोजेक्‍ट मैनेजर के तौर पर इंटर्नशिप किया और फॉक्‍समार्क्‍स में सॉफ्टवेयर डेवलपर के तौर पर काम किया।  ग्रेजुएशन करने के बाद माइक ने मीबो कंपनी में डेढ़ साल काम किया। इसके बाद वह इंस्‍टाग्राम से जुड़ गए।

 sabhar : bhaskar.com

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting