मंगलवार, 15 नवंबर 2011

दुनिया को खाक करने का सामान जुटा रखा था गद्दाफी ने




लंदन. लीबियाई तानाशाह नेता मुअम्मर अल गद्दाफी ने रसायनिक हथियार दुनिया की नजरों से छिपाकर रखे थे। ताजा खुलासे में यह बात सामने आई है। रसायनिक हथियारों के मिलने का मतलब है कि गद्दाफी ने तत्कालीन ब्रिटिश प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर को धोखा दिया था।

इंग्लैंड के पीएम डेविड कैमरन ने कहा कि गद्दाफी के पतन के बाद बनी लीबियाई सरकार ने यह जानकारी दी है। कैमरन के मुताबिक गद्दाफी ने हथियारों का जखीरा छिपाकर रखा था।

उल्लेखनीय है कि गद्दाफी ने साल 2004 में ब्रिटेन को अपने सभी हथियार सौंपने का वादा किया था। इस जखीरे का मिलना यह साबित करता है कि गद्दाफी ने इंग्लैंड को धोखे में रखा।

ब्रिटिश अखबार डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक लीबिया में कई स्थलों पर मस्टर्ड गैस एजेंट और अन्य रसायन मिले हैं जिनका इस्तेमाल हथियार बनाने में होता है।

2004 में ब्रिटेन के पीएम रहे टोनी ब्लेयर ने त्रिपोली में गद्दाफी से मुलाकात कर यह सौदा किया था। इस मुलाकात के बाद ब्लेयर ने कहा था, "गद्दाफी आतंकवाद की मदद कर सकते थे, इसलिए हम उन्हें एक बड़ा खतरा मान रहे थे। गद्दाफी परमाणु और रसायनिक हथियार तैयार कर रहे थे। लेकिन अब उन्होंने सबकुछ हमें सौंप दिया है।" sabhar: bhaskar.com
 
 
 
 
 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

शादीशुदा पुरुष किशमिश के साथ करें इस 1 चीज का सेवन, होते हैं ये जबर्दस्त 6 फायदे

किशमिश के फायदे के बारे में आपने पहले भी जरूर पढ़ा होगा लेकिन यहां पर वैज्ञानिक रिसर्च पर आधारित कुछ ऐसे बेहतरीन फैक्ट बताए जा रहे हैं जो श...