Network blog

कुल पेज दृश्य

रविवार, 20 नवंबर 2011

एक कदम और चली भारत में बुलेट ट्रेन परियोजना

0








नई दिल्ली. रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने बुलेट-ट्रेन परियोजना के लिए हाईस्पीड रेल अथॉरिटी बनाने के कैबिनेट-नोट पर शुक्रवार को मुहर लगा दी। सूत्रों ने बताया कि कैबिनेट कमेटी ऑन इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए तैयार फाइल में अथॉरिटी के लिए एक चेयरमैन के साथ 4 विशेषज्ञों के पद के लिए अनुशंसा ली जानी है।




योजना आयोग के अनुमान के मुताबिक इसकी प्रोजेक्ट लागत 65 हजार करोड़ रुपए है। पीपीपी मॉडल की बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए इसे पीएमओ ने मंजूरी दे दी है। रेलवे बोर्ड में इस पर कवायद शुरू हो गई है। रेलवे बोर्ड के सूत्रों ने दैनिक भास्कर को बताया कि बुलेट ट्रेन के लिए मेट्रो की तर्ज पर ‘डेजीनेटेड लाइन’बिछाने पर करीब 80 करोड़ प्रति किमी का खर्च आंका गया है। जबकि एलीवेटेड-वे में यही खर्च बढ़कर 125 करोड़ प्रति किमी हो जाएगा।



सूत्रों ने कहा कि शहरों के अंदर सुरंगें बनाकर भी कुछ क्षेत्रों से बुलेट ट्रेन चलाई जा सकती है। इसका खर्च तकरीबन 150 करोड़ रुपए प्रति किमी आएगा। बुलेट ट्रेन परियोजना को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का ‘ड्रीम प्रोजेक्ट’ माना जाता है। यही कारण है कि रेल मंत्रालय सीधे प्रधानमंत्री की देखरेख में आने के बाद रेलवे बोर्ड में हाईस्पीड ट्रेन की फाइलें दौड़ने लगी हैं।




सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय हैरानी के साथ इस बात की पड़ताल कर रहा है कि आखिर किन कारणों से दिल्ली-चंडीगढ़-अमृतसर की 450 किमी लंबी हाईस्पीड-कॉरीडोर के प्री-फिजिबिलिटी-रिपोर्ट का टेंडर ढाई साल बाद भी नहीं खुल पाया।


ये है 6 प्रोजेक्टों की स्थिति

> पुणे-मुंबई-अहमदाबाद- सिस्ट्रा, राइट्स व इटालफर कंपनी ने फिजिबिलिटी सौंपी। रिपोर्ट का अध्ययन जारी।
> दिल्ली-चंडीगढ़-अमृतसर टेंडर मंगाने के बाद भी ढाई साल से कंसलटेंट की नियुक्ति नहीं।
> दिल्ली-आगरा-लखनऊ-पटना- मॉट मैकडोनाल्ड कंपनी फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कर रही है।
> हावड़ा-हल्दिया- इनेको, प्रो-इनटेक, आयेशा कंपनी रिपोर्ट तैयार कर रही है।
> हैदराबाद-दोरनाकाल-विजयवाड़ा-चेन्नई: फिजिबिलिटी रिपोर्ट की निविदा खुली। कंसल्टेंट की नियुक्ति जल्द।
> चेन्नई-बंगलुरू-कोयंबटूर-एरनाकुलम के लिए टेंडर 31 अक्टूबर को खुले। कंसल्टेंट की नियुक्ति शेष। sabhar: bhaskar.com

 
 

0 टिप्पणियाँ :

एक टिप्पणी भेजें

 
Design by ThemeShift | Bloggerized by Lasantha - Free Blogger Templates | Best Web Hosting