रविवार, 13 नवंबर 2011

जा सकती थी किरण बेदी की जान,किसी तरह बचे 144 लोगों के प्राण







नागपुर.रांची से मुंबई जा रहा जेटलाइट एयरवेज का विमान रविवार सुबह दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गया। विमान में पूर्व आईपीएस अधिकारी किरन बेदी समेत 137 यात्री और चालक दल के 7 सदस्य सवार थे। एयरपोर्ट सूत्रों ने बताया कि जेटलाइट का यह विमान जब नागपुर से 30 नॉटिकल माइल्स की दूरी पर था तभी विमान का एक इंजन हवा में ही खराब हो गया।
पायलट ने दूसरे इंजन की मदद से विमान की उड़ान जारी रखी, पर थोड़ी ही देर में पायलट को महसूस हुआ की विमान के दूसरे इंजन से भी आवाज आ रही है और विमान का संतुलन बिगड़ रहा है। सुबह 10.10 बजे पायलट ने इसकी सूचना तुरंत उपराजधानी के डॉ. बाबासाहब आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को दी और विमान के इमरजेंसी लैंडिग की इजाजत मांगी।
जेटलाइट के पायलट को तत्काल इमरजेंसी लैंडिंग की अनुमति दे दी।
एलर्ट हुआ एयरपोर्ट प्रशासन :इस संबंध में सीनियर एयरपोर्ट डायरेक्टर विनोद कुमार यादव और सीआईएसएफ के डिप्टी कमांडेंट प्रणीत चन्द्रा समेत सभी संबंधित अधिकारियों को सूचित किया गया। जानकारी मिलते ही एयरपोर्ट प्रशासन सचेत हो गया।
तुरंत रन-वे पर बचाव दल, फायर ब्रिगेड सहित अधिकारी पहुंच गए। सुबह 10.25 बजे विमान की सुरक्षित लैंडिंग हुई। इसके बाद बचाव दल व यात्रियों ने राहत की सांस ली। हालांकि इमरजेंसी लैंडिंग में किसी को चोट नहीं आई है, लेकिन यात्रियों का कहना है कि यदि थोड़ी और देर हो जाती तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।
किरण बेदी ने ट्विटर पर दी इमरजेंसी लैंडिंग की जानकारी
जेटलाइट के रांची-मुंबई विमान की नागपुर में इमरेंसी लैंडिंग की सूचना सबसे पहले ट्विटर पर आई। दरअसल, टीम अण्णा की वरिष्ठ सदस्य और पूर्व आईपीएस किरन बेदी इस विमान में सवार थीं। जेटलाइट विमान की नागपुर में जैसे ही इमरजेंसी लैंडिंग हुई, उन्हांेने ट्विटर पर इसकी सूचना दे दी और यह भी लिखा कि वे और विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं। नागपुर एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग में थोड़ी देर आराम करने के बाद वे इंडिगो की नागपुर-मुंबई उड़ान (6ई-418) से मुंबई के लिए रवाना हो गईं।
मुंबई से आया दूसरा विमान
इंजन खराब हो जाने के कारण जेट लाइट का विमान उड़ान भरने के काबिल नहीं रह गया था। इसलिए जेटलाइट प्रबंधन ने नागपुर में फंसे यात्रियों को मुंबई ले जाने के लिए दोपहर डेढ़ बजे मुंबई से एक विशेष विमान भेजा। दोपहर दो बजे इस विशेष विमान से यात्रियों को मुंबई ले जाया गया।
उधर खराब विमान की मरम्मत के लिए मुंबई से बुलाए गए इंजीनियर पूरे दिन काम पर लगे रहे पर विमान की मरम्मत नहीं हो सकी। विमान के इंजन की मरम्मत के लिए शाम को कुछ उपकरण नई दिल्ली से भी मंगाए गए। सूत्रों के अनुसार रविवार देर रात तक विमान की मरम्मत होने की संभावना है। sabhar:bhaskar.com
 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

शादीशुदा पुरुष किशमिश के साथ करें इस 1 चीज का सेवन, होते हैं ये जबर्दस्त 6 फायदे

किशमिश के फायदे के बारे में आपने पहले भी जरूर पढ़ा होगा लेकिन यहां पर वैज्ञानिक रिसर्च पर आधारित कुछ ऐसे बेहतरीन फैक्ट बताए जा रहे हैं जो श...